spot_img

jamshedpur-mla-saryu-roy-incab-visit-केबुल कंपनी का विधायक सरयू राय का इंस्पेक्शन 3 घण्टे में हुई पूरी, सरयू बोले-20 साल से केबुल कंपनी का हुआ है बलात्कार, कंपनी के बलात्कारी को राजनीतिक संरक्षण, सरकार कराए खुद जांच या सीबीआई से कराए-video-saryu-roy

राशिफल

केबुल कंपनी (इंकैब इंडस्ट्रीज) मे सरयू राय

जमशेदपुर : जमशेदपुर में करीब 20 साल से बंद पड़ी केबुल कंपनी (इंकैब इंडस्ट्रीज) के सामानों की होने वाली चोरी और लूट के मामले की जांच करने गुरुवार की सुबह करीब 7 बजे खुद जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय पहुंचे. सरयू राय के साथ उनकी पूरी भारतीय जनता मोर्चा के कार्यकर्ता भी साथ थे. सुबह-सुबह सरयू राय के कंपनी के भीतर जाते ही हड़कंप मच गया है. करीब 3 घंटे तक सरयू राय का यह इंस्पेक्शन चला. इस इंस्पेक्शन के दौरान सरयू राय ने पाया कि बड़े पैमाने पर कंपनी के सामान परिसंपत्तियों और उपकरण की चोरी की गई है और इसमें कई सफेदपोश लोग शामिल है जिनको राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है.

विधायक सरयू राय

करीब 3 घंटे तक इंस्पेक्शन करने के बाद केबुल कंपनी से बाहर निकले सरयू राय ने मीडिया से बातचीत की. सरयू राय ने कहा कि 20 साल से केबुल कंपनी का बलात्कार किया गया है और इन बलात्कारियों को राजनीतिक संरक्षण उन लोगों ने ही दिया है जो 20 से 25 साल से जमशेदपुर पूर्वी की राजनीति के शीर्ष पर बने हुए थे. उनका साफ इशारा पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास की ओर नजर आया. हालांकि उन्होंने रघुवर दास का नाम नहीं लिया. वैसे उन्होंने इस मामले में 2 दिनों पूर्व अपने द्वारा दायर गोलमुरी थाना के एफआईआर मामले में कार्रवाई करने की मांग को और तेज करने की घोषणा की है और अगर यहां से जांच पूरी नहीं होती है तो मामले की सीबीआई जांच की भी मांग की है.

विधायक सरयू राय

आपको बता दें कि करीब 20 साल से कंपनी बंद पड़ी हुई है लेकिन उसके सारे उपकरण, सामान और मशीनों की हमेशा चोरी होती रहती है. बंद कंपनी के सामानों की चोरी कर कई लोग लखपति करोड़पति बन चुके हैं. इसकी सूचना मिलने के बाद खुद विधायक सरयू राय केबल कंपनी पहुंचे और पूरे मामले की जांच शुरू की. वैसे यह पूर्व घोषित कार्यक्रम था. खुद सरयू राय ने बुधवार की रात अपने टि्वटर हैंडल से ट्वीट कर कहा था कि “कल 17 दिसंबर 2020 को सुबह 7.30 बजे केबुल कम्पनी परिसर का भ्रमण करूँगा. घूमकर जानकारी लूँगा कि केबुल कंपनी के भीतर अब कितनी मशीनरी/परिसम्पत्ति बची हैं. प्रबंधन से पता करूँगा कि कंपनी बंद होने के समय कितनी मशीनरी/परिसंपत्ति वहाँ थीं. अब ये नहीं हैं तो इसके लिये कौन ज़िम्मेवार है ?”. सरयू राय जब कंपनी के भीतर पहुंचे तो उन्होंने पाया कि बड़े पैमाने पर सामान उपकरण और मशीनरी की चोरी की गई है. उन्होंने इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने के साथ ही स्पेशल ऑडिट कराने की भी मांग सक्षम प्राधिकार के पास रखने की बात कही है. पूरे हालात को देखकर खुद सरयू राय भौचक्के के रह गए थे.

[metaslider id=15963 cssclass=””]

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!