spot_imgspot_img
spot_img

jamshedpur-workers-जमशेदपुर समेत पूरे देश में कंपनियों में मशीनिकरण दस साल में बढ़ेगी, टाटा स्टील की वीपी एचआरएम ने यूनियन से की अपील, मजदूरों को उस अनुसार तैयार कराये नहीं तो स्थिति बदल सकती है, इंडस्ट्रियल ऑल ग्लोबल यूनियन की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा

जमशेदपुर : इंडस्ट्रियल ऑल ग्लोबल यूनियन के तत्वाधान जमशेदपुर के एक होटल में टाटा ग्रुप की कंपनियों के नेताओं के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन स्वास्थ्य सुरक्षा और श्रम कानूनों में होने वाले बदलाव के विषय में रखा गया है. इस कार्यशाला का आयोजन इंडियन स्टील मेटल माइंस एंड इंजीनियरिंग इंप्लाइज फेडरेशन के महासचिव रघुनाथ पांडेय द्वारा किया गया. इसमें मुख्य अतिथि के रूप में टाटा स्टील की वीपी एचआरएम अतरई सरकार, विशिष्ट अतिथि के रूप में उप श्रमायुक्त (कोल्हान) राजेश प्रसाद एवं सम्मानित अतिथि के रुप में इंडस्ट्री आॉल ग्लोबल यूनियन के क्षेत्रीय सचिव अपूर्वा कैवार उपस्थित थी. मुख्य अतिथि के रुप में बोलते हुए अतरई सरकार ने कहा कि टाटा स्टील अपनी कंपनी में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए कृत्य संकल्प है तथा हर स्तर पर महिलाओं को दृढ़ करने का काम कर रही है. उन्होंने यूनियन लीडर से भी कहा कि जिस यूनियन में महिलाओं की भागीदारी होती है वह यूनियन सदैव अग्रसर होती है. साथ ही उन्होंने कहा कि जो यूनियन नेता अपने कनिष्ठ नेताओं को आगे नहीं बढ़ाते हैं वह वाकई नेता नहीं होते है. उन्होंने यूनियन को शरीर का दिल कहा, जो कि मुख्य हिस्सा होता है. उन्होंने कहा कि आने वाले 10 सालों में तेजी से उद्योगों में बदलाव आएंगे, जिसमें मशीनीकरण होगा. यूनियन नेता अभी से श्रमिकों को कौशल विकास पर ध्यान केंद्रित कराए. उन्होंने श्रमिकों के साथ ही साथ पर्यावरण की सुरक्षा करने की भी सलाह दी. (नीचे पूरी खबर पढ़ें)

उप श्रम आयुक्त राजेश प्रसाद ने उपस्थित श्रमिक नेताओं को असंगठित क्षेत्र में कार्य कर रहे श्रमिकों को संगठित करने पर बल दिया और उन्हें यूनियन से जोड़ने का आह्वान किया. उन्होंने हाल में ही केंद्र सरकार द्वारा लाए गए ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को रजिस्टर्ड कराने की भी सलाह दी. इंडस्ट्री ऑल ग्लोबल यूनियन की क्षेत्रीय सचिव अपूर्वा कैवार ने श्रमिकों को संगठित करने पर बल दिया तथा इंडस्ट्री ऑल से हर सहयोग देने का वादा किया. कार्यशाला को संबोधित करते हुए वक्ता बीएस षाड़ंगी ने केंद्र सरकार द्वारा नए लेबर कानून के आने से मजदूरों तथा यूनियनों के होने वाले फायदे एवं नुकसान के विषय में विस्तृत जानकारी दी. टाटा स्टील के चीफ सेफ्टी नीरज सिन्हा ने कहा कि अपने व्यवहार में परिवर्तन लाकर बहुत सारे होने वाली दुर्घटनाओं से बचा जा सकता है. आशुतोष भट्टाचार्य ने इंडस्ट्री ऑल ग्लोबल यूनियन के विश्व सर पर उपस्थिति एवं किए जाने वाले कार्य के विषय में विस्तृत जानकारी दी. टाटा वर्कर्स यूनियन के उपाध्यक्ष शहनवाज आलम ने आने वाले समय में यूनियन की चुनौतियों के विषय में विस्तृत रूप से बताया. कार्यशाला को टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष संजीव चौधरी टुन्नु, टाटा वर्कर्स यूनियन के डिप्टी प्रेसिडेंट शैलेश सिंह, यूनियन के अध्यक्ष राकेश्वर पांडेय ने भी संबोधित किया. कार्यशाला का संचालन रघुनाथ पांडेय ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन देविका सिंह ने किया. कार्यशाला में 50 से अधिक प्रतिभागी उपस्थित थे.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!