TATA MOTORS : 44 कांवाई चालको पर लगा शांति भंग करने का धारा 107, एसडीओ कोर्ट में सुनवाई, हाजिर हुए कांवाई चालक

Advertisement
Advertisement
एसडीओ कोर्ट के सामने मौजूद कांवाई चालक.

जमशेदपुर : एक्सग्रेसिया (बोनस) की मांग को लेकर पिछले 10 दिनों से टाटा मोटर्स गेट पर धरना दे रहे कांवाई चालकों पर शांति भंग करने की धारा 107 लगाया गया है. यह धारा आंदोलन का नेतृत्वकर्ता ज्ञान सागर प्रसाद समेत 44 चालकों पर लगाया गया है. मामले पर एसडीओ कोर्ट में शुक्रवार को सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान ज्ञानसागर प्रसाद ने न्यूनतम मजदूरी के तहत इन सभी चालकों का एक्सग्रेसिया बनता है. जो पिछले साल की तरह इस साल भी नहीं दिया गया. यह उनकी जायज मांग है, परंतु प्रबंधन इससे इनकार कर रहा है. दूसरी ओर अपनी मांगों को लेकर गेट पर धरना जारी रखा गया है. वहीं टीटीसीए की मान्यता प्राप्त ऑल इंडिया वर्कर्स यूनियन ने ज्ञान सागर एंड टीम को गेट से हटाने की मांग रखते हुए उस गुट को भी धरना देने की अनुमति मांगी है. यूनियन के महामंत्री अमरजीत सिंह का कहना है कि धरना दे रहे हैं. ज्ञान सागर एंड टीम की मांग है कि इन्हें न्यूनतम मजदूरी के साथ वह सभी सुविधाएं दी जाये, जो एक कर्मचारी को मिलना चाहिए. धरना देने वालों में मुख्य रूप से अमरनाथ चौबे, जसपाल सिंह, गोविंद सिंह, अजीत कुमार, दिनेश पांडे आदि शामिल हैं.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement