tata-motors-strike-टाटा मोटर्स के ठेकेदार कर्मचारियों की हड़ताल सातवें दिन जारी, सिविल मेंटेनेंस का कामकाज ठप

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : टाटा मोटर्स के जमशेदपुर प्लांट में सिविल मेंटेनेंस कर्मियों का हड़ताल सातवें दिन भी जारी रहा. इस बीच मंगलवार की सुबह मजदूरों के आग्रह पर टाटा मोटर्स के जितने भी काम टेल्को टाउन में हो रहे थे. उन सारे कामगारों ने अपने-अपने काम को बंद कर दिया. इसके बाद टाटा मोटर्स की ओर से जुस्को पर दबाव बनाया गया कि उनके चलते उनका सारा काम डिस्टर्ब हो रहा है और एक त्रिपक्षीय वार्ता टेल्को टाउन डिवीजन ऑफिस में 11:30 बजे आयोजित की गई. इसमें टाटा मोटर्स की ओर से रजत शर्मा, विशाल सिंह, जुस्को की ओर से बीपी शर्मा, अरविंद सिंह एवं मजदूरों की ओर से कांग्रेसी नेता आनंद बिहारी दुबे, सामंतों कुमार, संजय घोष, अतुल गुप्ता एवं 5 मजदूरों ने भाग लिया. लंबी चली त्रिपक्षीय वार्ता में प्रबंधन को मजदूरों की सारी समस्याओं से श्री दुबे नें अवगत कराया और बताया कि जुस्को द्वारा सरेआम सारे श्रम अधिनियम का उल्लंघन किया जा रहा है. जैसे 55 साल से ऊपर काम करने वाले कामगारों को बिना सेटलमेंट दिए बैठाने की बात हो रही है तो वहीं दूसरी ओर जुस्को द्वारा नियुक्त ठेकेदारों द्वारा मजदूरों का पीएफ का पैसा तो काटा जा रहा है परंतु दिसंबर महीने के बाद से आज तक जमा नहीं किया गया तो वही दूसरे ठेकेदार द्वारा 26 दिन काम करने पर किसी मजदूर का 14 दिन तो किसी का 18 दिन और ज्यादा से ज्यादा 20 दिन का पीएफ और ईएस आई जमा किया जा रहा है. कई श्रमिकों को मिनिमम वेजेस भी नहीं दिया जाता तो वही लॉकडाउन पीरियड में भी सभी मजदूरों को पूरा वेतन का भुगतान नहीं किया गया. मजदूरों द्वारा सम्बन्धित जुस्को पदाधिकारियों को लगातार जानकारी देने के बावजूद जुस्को द्वारा इस पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है.

Advertisement
Advertisement

दुख और आश्चर्य इस बात का है कि प्रिंसिपल इमप्लायर होने के बाद भी टाटा मोटर्स प्रबंधन भी इस पर कुछ नहीं कर रहा है. सारी बातों को सुनने के बाद जुस्को के पदाधिकारियों ने अपने उच्च पदाधिकारियों को जानकारी देने और सारी समस्याओं के समाधान हेतु 15 दिनों के अंदर कार्रवाई करने की बात कही. साथ ही आंदोलन समाप्त कर काम प्रारंभ करने का आग्रह किया. इस पर आंदोलन के नेतृत्व कर रहे आनंद बिहारी दुबे ने साफ शब्दों में मना कर दिया और कहा कि यह सारी चीजें सारे लोगों की जानकारी में है. मजदूरों ने लगातार इन अनियमितताओं की जानकारी जुस्को के पदाधिकारियों को दी है. अगर समय पर कार्रवाई की गई होती तो आज हड़ताल का नौबत नहीं आती. जुस्को के पदाधिकारी उल्टे मजदूरों को ही दबाने का प्रयास करते हैं. जब तक इन समस्याओं का समाधान सुनिश्चित नहीं किया जाता तब तक हड़ताल जारी रहेगा. उसके बाद इस सारी घटनाक्रम की जानकारी मजदूरों को दी गई. मजदूरों ने अपनी एकता के साथ गगनभेदी नारे लगाए और यह प्रण लिया कि जुस्को का तानाशाही बर्दाश्त नहीं करेंगे. समस्या का समाधान होने तक हमारा हड़ताल इसी तरह जारी रहेगा. कार्यक्रम में मुख्य रूप से सामंतों कुमार, चाईबासा प्रभारी अतुल गुप्ता, उड़ान प्रवक्ता संजय घोष से जिला महासचिव पूर्वी सिंहभूम सहित ढाई सौ के आसपास मजदूर एवं सिविल मेंटेनेंस के सभी सुपरवाइजर मौजूद थे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement