tata-steel-initiative-टाटा स्टील के प्रयासों से दो ग्रामीण युवकों को हांगकांग की बड़ी कंपनी में मिली नौकरी, जानें क्या है सफलता की कहानी

Advertisement
Advertisement
हांगकांग की कंपनी में काम करते दोनों युवा.

नोआमुंडी : टाटा स्टील स्किल डेवलपमेंट सोसाइटी (टीएसएसडीएस) झारखंड सरकार के साथ तमाड़ (रांची) और जगन्नाथपुर (पश्चिम सिंहभूम) में पीपीपी मोड में आइटीआइ चला रहा है और झारखंड एवं ओड़िशा के अपने परिचालन क्षेत्रों के ग्रामीण युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण कार्यक्रम की सुविधा उपलब्ध करा रहा है. नोआमुंडी के गुरुचरण बोबोंगा और कपिल देव प्रधान इसके ऐसे ही उत्साहजनक मामले हैं, जिन्हें हांगकांग में टीवीएससी कंस्ट्रक्शन स्टील सॉल्यूशंस से नौकरी के प्रस्ताव मिले हैं. गुरुचरण और कपिल आइटीआइ प्रशिक्षित फिटर हैं, जिन्हें टाटा स्टील फाउंडेशन, नोआमुंडी में प्रारंभिक काउंसेलिंग प्राप्त हुआ, इसके बाद एचटीटीसी ओवरसीज ट्रेनिंग एंड टेस्टिंग सर्विसेज लिमिटेड, कोलकाता में विदेशी प्लेसमेंट के लिए 2 महीने का प्रशिक्षण दिया गया. दोनों ही युवा हांगकांग शंघाई एलायंस होल्डिंग्स लिमिटेड की सहायक कंपनी ‘टीवीएससी कंस्ट्रक्शन स्टील सॉल्यूशंस’ में मशीन ऑपरेटर के रूप में काम करने के लिए तैयार हैं.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
नौकरी पाने वाले दोनों युवक.

कंपनी ने उनके साथ 2 साल का अनुबंध किया गया है और उनके कार्य वीजा के आवेदन की प्रक्रिया चल रही है. अच्छा वेतन के अलावा, उन्हें सुविधाओं से लैस निःशुल्क आवास (साझा आधार पर) मिलेगा और निवास से कार्यस्थल तक मुफ्त परिवहन सुविधा भी मिलेगी. अपने अनुभव को साझा करते हुए गुरुचरण ने कहा कि टाटा स्टील शुरू से ही हमारी मार्गदर्शक रही है. हांगकांग में यह नौकरी की पेशकश न केवल मेरे जीवन को आकार देगी, बल्कि मेरे परिवार के जीवन को भी बदल देगी. मैं टाटा स्टील के निरंतर मार्गदर्शन और इस नौकरी को पाने के लिए तैयार करने में सहयोग के लिए उनका आभारी हूं. जून 2009 में झारखंड सरकार और टाटा स्टील के बीच झारखंड में एक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) स्थापित और संचालित करने के लिए 30 साल की अवधि के लिए एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए थे. तत्पश्चात, टीएसएसडीएस ने, जो टाटा स्टील द्वारा निर्मित एक गैर-लाभकारी सोसाइटी है, अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ ‘टीएसएसडीएस प्राइवेट लिमिमटेड, आइटीआइ, तमाड़ की स्थापना की और संस्थान चलाने के लिए प्रशिक्षण सेवा प्रदाता के रूप में नेटुर टेक्नीकल ट्रेनिंग फाउंडेशन, बंगलोर को नियुक्त किया. यह आइटीआइ 1 अगस्त 2012 से चालू है और फिटर, इलेक्ट्रीशियन, टर्नर, वेल्डर और मेसन के पांच ट्रेड में प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है. अब तक, संस्थान से उत्तीर्ण उम्मीदवारों को 100 प्रतिशत प्लेसमेंट मिला है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply