tata-steel-टाटा स्टील के एलडी 2 का मैनपावर तय, अध्यक्ष समेत तमाम लोगों ने लगायी मुहर

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : टाटा स्टील के जमशेदपुर प्लांट के एलडी 2 का मैनपावर को नये सिरे से तय कर लिया गया है. सोमवार को इसको लेकर व्यापक बैठक हुई. इस बैठक में अध्यक्ष आर रवि प्रसाद, डिप्टी प्रेसिडेंट अरविंद पांडेय समेत अन्य सारे पदाधिकारी मौजूद थे. सूत्रों के मुताबिक, कुल मैनपावर 446 तय किया गया है. एलडी 2 के वर्तमान में छह सेक्शन में 650 कर्मचारी कार्यरत है. कंपनी ने पहले से ही मैनपावर को कम करने का प्रस्ताव दिया था. वैसे यहां रिटायरमेंट और नौकरी छोड़ो-नौकरी पाओ जैसे स्कीम के कारण पहले से ही मैनपावर कम हो चुका था, लेकिन सोमवार को 446 मैनपावर पर फैसला ले लिया गया. यहां का रिऑर्गेनाइजेशन 2017 से ही लंबित था. वैसे आपको बता दें कि एलडी 2 हाइप्रोफाइल डिपार्टमेंट माना जाता है, जहां से खुद अध्यक्ष आर रवि प्रसाद चुनाव जीतकर आते है जबकि कद्दावर पदाधिकारी यूनियन उपाध्यक्ष शहनवाज आलम और सहायक सचिव धर्मेंद्र उपाध्याय चुनाव जीतकर आते है. वैसे यहां से पूर्व डिप्टी प्रेसिडेंट शैलेश सिंह भी चुनाव लड़ते रहे है. इस डिपार्टमेंड के मैटेरियल हैंडलिंग सर्विसेज (एमएचएस), टेक्निकल सर्विसेज, सेकेंड्री मेटलर्जी लैडर प्रिपरेशन (एसएमएलपी), वेसल, स्लैब यार्ड मैनेजमेंट सिस्टम (एसवाइएमएस) जैसे सेक्शन का मैनपावर तय किया गया है. वैसे इस बड़े विभाग में मैनपावर तय होना एक बड़ी खबर है, लेकिन कई लोगों को यह समझौता नागवार भी लग रहा है. वैसे इसका मैनपावर पहले ही तय हो चुका था, जिसकी औपचारिकता मात्र बची हुई थी, जिसको आज पूरा कर लिया गया है. इसके समझौता की कॉपी कमेटी मेंबरों को अब तक नहीं मिल पायी है.

Advertisement
Advertisement

कमेटी मेंबरों को भी नहीं बुलाया गया

Advertisement

दूसरी ओर, इसको लेकर विरोध भी हो रहा है. दरअसल, एलडी 2 के कमेटी मेंबर गुंजन वर्मा समेत कई अन्य कमेटी मेंबरों ने भी अपना विरोध दर्ज कराया था कि इतना कम मैनपावर को क्यों फाइनल किया जा रहा है. हालांकि, सोमवार को जो समझौता हुआ है, उसको लेकर भी विरोध हो रहा है क्योंकि कमेटी मेंबरों को इसकी जानकारी नहीं दी गयी है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply