tata-steel-new-initiative-टाटा स्टील ने जमशेदपुर में तैयार स्टील के परिवहन के लिए इलेक्ट्रिक वाहन उतारे, 27 इलेक्ट्रिक वाहन तैनात करने की योजना है

राशिफल

जमशेदपुर : टाटा स्टील ने जमशेदपुर में तैयार स्टील के परिवहन के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) के उपयोग की शुरुआत की. इससे पहले 29 जुलाई को साहिबाबाद प्लांट में यह पहल शुरू की गई थी. बिलेट यार्ड से बीके स्टील प्लांट तक बुधवार को उद्घाटन परिवहन के साथ, अब इस पहल को जमशेदपुर में भी लागू कर दिया गया. इस अवसर पर मुख्य अतिथि वीपी स्टील सुधांशु पाठक के साथ वीपी सप्लाइ चेन पीयूष गुप्ता, वीपी सेफ्टी व हेल्थ संजीव पॉल और टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष संजीव कुमार चौधरी टुन्नु आदि भी उपस्थित थे. टाटा स्टील ने तैयार स्टील के परिवहन के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों को तैनात करने की अपनी आकांक्षा को आगे बढ़ाने के लिए एक भारतीय स्टार्टअप के साथ करार किया है. टाटा स्टील के पास 35 टन स्टील की न्यूनतम वहन क्षमता वाले 27 ईवी की तैनाती का अनुबंध है. कंपनी की योजना जमशेदपुर संयंत्र में 15 ईवी और साहिबाबाद संयंत्र में 12 ईवी तैनात करने की है. इस अवसर पर अपने संबोधन में सुधांशु पाठक ने कहा कि कार्बन फुटप्रिंट को कम करने और सस्टेनेबिलिटी के हितों को आगे बढ़ाने की दिशा में इस टेक्नोलॉजी को अपनाना एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहल है. उन्होंने कहा कि यह पहल शहर के निवासियों के प्रति एक जिम्मेदार कॉर्पोरेट के रूप में टाटा स्टील की प्रतिबद्धता का सुदृढ़ीकरण है. पीयूष गुप्ता ने कहा कि इस पहल का उद्देश्य ग्रीनहाउस गैस (जीएचजी) उत्सर्जन में कमी लाना है और इससे आने वाले समय में पर्यावरण की रक्षा करने में मदद मिलेगी. संजीव पॉल ने इस उपलब्धि के लिए सप्लाई चेन डिवीजन को बधाई दी और भविष्य में एक ऐसे इकोसिस्टम देखने की इच्छा व्यक्त की, जो लंबी दूरी के आवागमन को भी सपोर्ट देने के लिए विकसित किया गया हो. संजीव कुमार चौधरी ने इस नई पहल के लिए जिम्मेदार टीमों के प्रयासों की सराहना की और टिप्पणी की कि यह पहल हरित शहर जमशेदपुर में सस्टेनेबिलिटी के हितों को आगे बढ़ाएगी. तैनात किए जा रहे ईवीएस में 2.5 टन, 275 केडब्ल्यूएच लिथियम आयन बैटरी पैक शामिल है. इसमें एक परिष्कृत कूलिंग सिस्टम और बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम है, जिसमें वातावरण के 60 डिग्री सेल्सियस तापमान तक संचालित करने की क्षमता है. बैटरी पैक 160 केडब्ल्यूएच चार्जर सेट-अप द्वारा संचालित होता है, जो 95 मिनट में बैटरी को शून्य से 100 प्रतिशत तक चार्ज करने में सक्षम है. जीरो टेल-पाइप उत्सर्जन के साथ, प्रत्येक ईवी हर साल 125 टन से अधिक कार्बन डाइऑक्साइड के बराबर जीएचजी फुटप्रिंट कम करेगा. टाटा स्टील का विजन ’वैल्यू क्रिएशन और कॉरपोरेट सिटिजनशिप’ में ग्लोबल स्टील इंडस्ट्री बेंचमार्क बनना है. इस विजन को हासिल करने के लिए सस्टेनेबल बिजनेस अभ्यास प्रमुख सामर्थ्य निर्माता हैं. टाटा स्टील की “जिम्मेदार आपूर्ति श्रृंखला नीति“ अपने सभी आपूर्ति श्रृंखला निर्णयों और प्रक्रियाओं में “पर्यावरण संरक्षण“ को एक अभिन्न स्थिरता सिद्धांत के रूप में प्रतिस्थापित करती है.

Must Read

Related Articles