spot_img
मंगलवार, अप्रैल 13, 2021
More
    spot_imgspot_img
    spot_img

    tata-steel-performance-टाटा स्टील ने विपरित परिस्थितियों में वित्तीय वर्ष की अंतिम तिमाही में किया जबरदस्त उत्पादन व माल की डिलीवरी की, बाजार में बचाये रखी धाक, जानें क्या रहा कंपनी के वित्तीय वर्ष का कारोबार

    Advertisement
    Advertisement

    जमशेदपुर : टाटा स्टील इंडिया ने वित्तीय वर्ष 2020-2021 के अंतिम तिमाही में तीन प्रतिशत वृद्धि के साथ 4.75 मिलियन टन के उच्चतम तिमाही कच्चे इस्पात उत्पादन को प्राप्त किया है. पहले अर्द्धवार्षिक वित्तीय वर्ष 2021 में कोविड-19 महामारी के कारण हुए व्यवधान के कारण पूरे वर्ष वित्तीय वर्ष 2020-2021 का उत्पादन 7 प्रतिशत कम रहा. टाटा स्टील इंडिया डिलिवरी की मात्रा चौथे तिमाही में 16 प्रतिशत से बढ़कर 4.67 मिलियन टन हो गयी. कंपनी के मजबूत विपणन नेटवर्क और बेहतर बाजार स्थितियों के कारण घरेलू डिलिवरी 22 प्रतिशत से बढ़कर 4.17 मिलियन टन हो गयी. निर्यात कुल डिलिवरी का 11 प्रतिशत था. कोविड-19 महामारी के बाद भी पहले तिमाही 2021 में टाटा स्टील इंडिया ने वित्तीय वर्ष 21 में 17.30 मिलियन टन की वार्षिक वार्षिक मात्रा प्राप्त की. डॉमेस्टिक डिलिवरी के प्रमुख खंड ऑटोमोटिव एंड स्पेशल प्रोडक्ट्स की सेगमेंट डिलीवरी 13 प्रतिशत तिमाही से तिमाही और 57 प्रतिशत वार्षिक से वार्षिक से बढ़कर वित्तीय वर्ष 21 के चौथे तिमाही में 0.78 मिलियन टन हो गयी. पूरे साल वित्तीय वर्ष 21 की बिक्री की मात्रा 2 मिलियन टन का आंकड़ा पार कर गयी जिससे 7 प्रतिशत वार्षिक वृद्धि दर्ज की गयी. ब्रांडेड प्रोडक्ट्स और रिटेल सेगमेंट की डिलीवरी चौथे तिमाही वित्तीय वर्ष 21 में 3 प्रतिशत तिमाही से तिमाही और 23 प्रतिशत वार्षिक से वार्षिक से 1.45 मिलियन टन तक बढ़ी. व्यक्तिगत घर-बिल्डरों के लिए ऑनलाइन मंच ‘आशियाना’ के माध्यम से सकल राजस्व, रुपये के तिमाही राजस्व मील के पत्थर को पार कर गया. चौथे तिमाही 21 में 300 करोड़, 43 प्रतिशत तिमाही से तिमाही और 200 प्रतिशत वार्षिक से वार्षिक की वृद्धि दर्ज. की गयी. औद्योगिक उत्पादों और परियोजनाओं के सेगमेंट की डिलीवरी चौथे तिमाही 21 में 11 प्रतिशत वार्षिक से वार्षिक से बढ़कर 1.59 मिलियन टन हो गयी. इस तिमाही के दौरान, टाटा स्टील यूरोप में इस्पात उत्पादन बढ़कर 2.65 मिलियन टन हो गया. स्टील की बिक्री की मात्रा 18 प्रतिशत तिमाही से तिमाही और 4 प्रतिशत वार्षिक से वार्षिक से बढ़ी, बाजार की स्थितियों और मौसमी रूप से मजबूत तिमाही के बीच खंडों में सुधार हुआ. महामारी के प्रभाव के कारण वित्त वर्ष 21 के लिए इस्पात उत्पादन और बिक्री की मात्रा यो आधार पर कम थी. (नीचे पूरा फिगर पढ़े कितना क्या हुआ कारोबार)

    Advertisement
    Advertisement

    टाटा स्टील का प्रोडक्शन परिणाम एक नजर में :
    कंपनी के प्लांट का नाम-चौथी तिमाही जनवरी 2021 से मार्च 2021 तक-चौथी तिमाही जनवरी 2020 से मार्च 2020 तक
    टाटा स्टील इंडिया-4.75 मिलियन टन———-4.60 मिलियन टन
    टाटा स्टील यूरोप—2.65 मिलियन टन——–2.64 मिलियन टन
    टाटा स्टील की डिलिवरी परिणाम :
    टाटा स्टील इंडिया-4.67 मिलियन टन———4.03 मिलियन टन
    टाटा स्टील यूरोप-2.49 मिलियन टन———-2.39 मिलियन टन (नीचे पूरा फिगर पढ़े कितना क्या हुआ कारोबार)

    Advertisement

    पूरे वित्तीय वर्ष का परिणाम :
    कंपनी के प्लांट का नाम—-वित्तीय वर्ष 2021 (अप्रैल 2020 से मार्च 2021 तक)——-वित्तीय वर्ष 2020 (अप्रैल 2019 से मार्च 2020 तक)
    प्रोडक्शन
    टाटा स्टील इंडिया-17.30 मिलियन टन—–16.97 मिलियन टन
    टाटा स्टील यूरोप–8.85 मिलियन टन—–9.29 मिलियन टन

    Advertisement

    Advertisement
    Advertisement

    Leave a Reply

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    spot_imgspot_img

    Must Read

    Related Articles

    Don`t copy text!