spot_img

tata-steel-proud-moment-टाटा स्टील के इडी सह सीएफओ कौशिक चटर्जी प्रकृति से संबंधित जोखिमों से निपटने के लिए ‘नेचर-रिलेटेड फाइनांशियल डिस्क्लोजर’के टास्कफोर्स में किये गये शामिल, टीएनएफडी ने टास्कफोर्स के सदस्यों की घोषणा की और ‘ग्लोबल नेचर’ व ‘फाइनांस एक्पर्टीज’ का लाभ उठाते हुए कंसल्टेटिव फोरम का गठन किया

राशिफल

कौशिक चटर्जी, टाटा स्टील के इडी सह सीएफओ

जमशेदपुर : टाटा स्टील के एक्जीक्यूटिव डायेरक्टर (इडी) व सीएफओ कौशिक चटर्जी को ‘नेचर-रिलेटेड फाइनांशियल डिस्क्लोजर (टीएनएफडी)’ के टास्कफोर्स का एक सदस्य बनाया गया है. उनके साथ वित्तीय संस्थानों के अन्य वरीय अधिकारियों, कॉरपोरेट्स और प्रमुख वैश्विक बाजारों का प्रतिनिधित्व करने वाले बाजार सेवा प्रदाताओं को भी इसमें शामिल किया गया है. टीएनएफडी के 30 सदस्यीय टास्कफोर्स के सदस्यों को उनके सेक्टर व भौगोलिक कवरेज और प्रकृति व वित्तीय मामलों में उनकी व्यक्तिगत विषय-वस्तु विशेषज्ञता के लिए चुना गया है, जो टीएनएफडी के अभियान में मदद कर सकते हैं। ये सदस्य कृषि व्यवसाय, ब्लू इकोनॉमी, खाद्य व पेय, खनन, विनिर्माण, आधारभूत संरचना आदि जैसे प्रकृति पर सबसे अधिक प्रभाव और निर्भरता वाले सेक्टरों का प्रतिनिधित्व करते हैं और पांच महाद्वीपों के 14 देशों के वैश्विक प्रतिनिधि हैं. आधिकारिक तौर पर जून 2021 में लांच किये गये टीएनएफडी का उद्देश्य वैश्विक वित्तीय प्रवाह की दिशा को प्रकृति-नकारात्मक परिणामों से हटाकर प्रकृति-सकारात्मक परिणामों की ओर ले जाने में मदद के लिए संस्थानों को रिपोर्ट करने और प्रकृति से संबंधित बढ़ते जोखिमों पर कार्य करने के लिए एक ढांचा यानी फ्रेमवर्क प्रदान करना है. टाटा स्टील के सीईओ व एमडी टीवी नरेंद्रन ने कहा कि प्राकृतिक पूंजी की हमारी खपत की माप और जागरूकता के मामले में और सस्टेनेबिलिटी लीडरशिप में टाटा स्टील का एक लंबा इतिहास रहा है. हमारे बड़े परिचालनों मद्देनजर हम अपने कई मैन्युफैक्चरिंग और माइनिंग लोकेशनों के आसपास जैव-विविधता को संरक्षित करने की महती आवश्यकता को समझते हैं. टीएनएफडी के साथ टाटा स्टील और कौशिक के सहयोग का पूरी तरह से समर्थन करता हूं, जो प्रकृति से संबंधित जोखिमों के लिए अधिक प्रभावी और व्यावहारिक माप, शमन और समाधान संचालित करेंगे – कुछ ऐसा करेंगे, जो हमारी धरती, हमारी अर्थव्यवस्थाओं और हमारे व्यवसायों की स्थिरता के लिए आवश्यक है. टीएनएफडी के को-चेयर एलिजाबेथ मरेमा, जो (संयुक्त राष्ट्र के सहायक महासचिव और संयुक्त राष्ट्र कन्वेंशन ऑन बायोलॉजिकल डायवर्सिटी -सीबीडी) की कार्यकारी सचिव) और डेविड क्रेग (लंदन स्टॉक एक्सचेंज ग्रुप के लिए रीफाइनिटिव ऐंड स्ट्रैटेजिक एडवाइजर के पूर्व सीईओ) के नेतृत्व में, टास्कफोर्स सदस्य वैश्विक वित्तीय प्रवाह की दिशा को प्रकृति-नकारात्मक परिणामों से हटा कर प्रकृति-सकारात्मक परिणामों की ओर ले जाने में मदद के लिए जोखिम प्रबंधन और वित्तीय प्रकटीकरण (फाइनांशियल डिस्क्लोजर) ढांचे को विकसित करने और वितरित करने के लिए 6 अक्टूबर को पहली बार एक साथ बैठेंगे. इस ढांचे या फ्रेमवर्क को अंतिम रूप देने के बाद इसे 2023 के अंत में जारी किया जायेगा. फिर भी, इससे पहले 2022 की शुरुआत में बीटा संस्करण का एक मसौदा वितरित किया जायेगा, ताकि अगले साल पूरे बाजार प्रतिभागियों के साथ इसे एक खुले-नवाचार दृष्टिकोण के माध्यम से परीक्षण और परिष्कृत किया जा सके. टास्कफोर्स की सदस्यता में अंततः अधिकतम 35 व्यक्ति शामिल होंगे. वर्तमान में शेष वरीय अधिकारियों का चयन किया जा रहा है. इसके साथ, टास्कफोर्स के भौगोलिक और सेक्टर कवरेज और इसकी विशेषज्ञता की विविधता को व्यापक बनाने के लिए विभिन्न सेक्टरों व दुनिया के अलग-अलग स्थानों से और विशेषज्ञ लाये जा रहे हैं. टीएनएफडी के को-चेयर एलिजाबेथ मरेमा और डेविड क्रेग ने कहा, “व्यापार और वित्तीय दुनिया की कुल शून्य उत्सर्जन की दौड़ तभी सफल होगी, जब वे प्रकृति-सकारात्मकता की ओर समान रूप से तेजी से दौड़ेंगे. जिस प्रकार हमारे काम का महत्व और इसकी तात्कालिकता स्पष्ट है, वैसे ही टीएनएफडी के लिए आगे की चुनौती की जटिलता भी है. टीएनएफडी पहल ‘बाजार के लिए बाजार द्वारा’ है इसलिए, प्रकृति से संबंधित जोखिमों के लिए एक व्यावहारिक ढांचे का विकास केवल एक अद्वितीय सहयोगी प्रयास के साथ जैव विविधता, डेटा, मैट्रिक्स और मानकों, जोखिम प्रबंधन और प्रकटीकरण ढांचे (डिस्क्लोजर फ्रेमवर्क) में बाजार के अभ्यासकर्ताओं और विशेषज्ञों को एक साथ लाकर ही प्राप्त किया जा सकता है। हम अपने टास्कफोर्स सदस्यों के साथ तुरंत काम शुरू करने की उम्मीद कर रहे हैं. प्रत्येक टास्कफोर्स सदस्य कम से कम पांच प्रारंभिक ‘वर्किंग ग्रुप’ में से एक का हिस्सा होगा, जिसके माध्यम से टीएनएफडी ढांचे को विकसित करने के लिए विशिष्ट, तकनीकी कार्य शुरू होगा. पांच वर्किंग ग्रुपों में शामिल व्यक्तियों का काम प्रकृति से संबंधित जोखिमों को परिभाषित करना, डेटा उपलब्धता, मानकों और मेट्रिक्स का लैंडस्केप, बीटा फ्रेमवर्क का विकास, पायलट परीक्षण और एकीकरण करना होगा. टास्कफोर्स के काम में सहयोग अपने-आप में संस्थागत समर्थकों और भागीदारों का एक व्यापक सलाहकार निकाय है, जिसे टीएनएफडी फोरम के रूप में जाना जाता है. टीएनएफडी फोरम 100 से अधिक फोरम सदस्यों के साथ शुरू किये गये संस्थानों का एक वैश्विक बहु-अनुशासनात्मक सलाहकार समूह है. ये संस्थान टीएनएफडी के विजन और मिशन को साझा करते हैं और इन्होंने टास्कफोर्स के काम में योगदान करने के लिए खुद को उपलब्ध कराने की इच्छा व्यक्त की है. टीएनएफडी फोरम सदस्यता के लिए खुला है और समय के साथ इसके बढ़ने की उम्मीद है, क्योंकि कई संस्थान अपने जुड़ाव के महत्व को लेकर जागरूक हो रहे हैं और वित्तीय प्रवाह को प्रकृति-सकारात्मक परिणामों की ओर में मोड़ने में सहयोग करने के लिए इसमें शामिल हो रहे हैं. फोरम में पहले से शामिल हो चुके सदस्यों के अलावा, 100 अन्य संस्थानों ने भी अल्पावधि के लिए फोरम में शामिल होने की रुचि व्यक्त की है. को-चेयर्स, टास्कफोर्स सदस्यों और उनके वर्किंग ग्रुप्स लीड्स के कार्य में मदद के लिए टीएनएफडी का एक सचिवालय भी मौजूद है.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!