spot_img
गुरूवार, जून 17, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

टाटा मोटर्स के जमशेदपुर प्लांट में हुआ तीन साल का वेज रिवीजन समझौता, कर्मचारियों का औसतन 15340 रुपये प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी, कैंटीन फ्री, कंपनी क्वार्टर में फ्री पानी मिलना बंद, जानिये क्या हुआ है वेज रिवीजन समझौता

Advertisement
Advertisement
वेज रिवीजन समझौता के बाद टाटा मोटर्स के अधिकारी व यूनियन के पदाधिकारी.


जमशेदपुर : टाटा मोटर्स के जमशेदपुर प्लांट के लिए तीन साल का वेज रिवीजन समझौता हो गया. बुधवार को ही वेज रिवीजन समझौता और बोनस समझौता एक साथ ही हो गया. इसके तहत 1 अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2022 यानी तीन साल के लिए वेज रिवीजन समझौता किया गया. इसके तहत कर्मचारियों की कई सुविधाएं बढ़ायी गयी है तो कुछेक कटौती भी की गयी है. समझौता के तहत औसतन 15340 रुपये प्रतिमाह कर्मचारियों की बढ़ोत्तरी हुई है.

Advertisement
Advertisement

एक नजर में जानिये क्या हुआ है वेज रिवीजन का समझौता :

Advertisement
  1. समझौता 1 अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2022 तक लागू होगा.
  2. फिक्स बढ़ोत्तरी 8500 रुपये होगी.
  3. बेसिक में 4483 रुपये की बढ़ोत्तरी
  4. वेरिएबल डीए में 3000 रुपये की बढ़ोत्तरी की गयी है, जिसको फिक्स डीए में समायोजित कर दिया गया है.
  5. कर्मचारियों का सालाना इंक्रीमेंट 40 रुपये का होगा.
  6. नये वेज रिवीजन समझौता के तहत फिक्स 8500 रुपये की बढ़ोत्तरी में 75 फीसदी की राशि अभी इसी साल मिल जायेगा जबकि 15 फीसदी दूसरे साल यानी 90 फीसदी बढ़ी हुई राशि मिलेगी जबकि तीसरे साल में जाकर कर्मचारियों को फिक्स 8500 रुपये मिला करेगा
  7. एमओपी की राशि को 421 प्वाइंट तय कर दिया गया है, जिसके तहत कर्मचारियों को 12950 रुपये का लाभ होगा जबकि अब तक 360 प्वाइंट मिलता, जिसके एवज में कर्मचारियोंको 8700 रुपये मिलती थी.
  8. कर्मचारियों को अगर प्रोमोशन मिलता है तो कर्मचारियों को एक साथ दो इंक्रीमेंट मिलेगा यानी 275+275=550 रुपये मिलेगा.
  9. पहली बार नया ग्रेड बनाया गया है. एनएस ग्रेड को यूनियन ने मानने से इनकार कर दिया है. अब तक टाटा मोटर्स में इ-9 ग्रेड होता था, जिसके ऊपर कर्मचारियों का प्रोमोशन होता था तो सुपरवाइजर ग्रेड में होता था. लेकिन अब नया ग्रेड एस-10 बना दिया गया है. इ-9 के बाद कर्मचारियों का प्रोमोशन इ-10 में होगा और उसके बाद अगर प्रोमोशन होगा तो सुपरवाइजर ग्रेड में होगा.
  10. यूनिफार्म एलाउंट में 1154 रुपये प्रतिमाह बढ़ोत्तरी हुई है
  11. हाउस मेंटेनेंस में 729 रुपये प्रतिमाह बढ़ोत्तरी की गयी है.
  12. कर्मचारियों के बच्चों की पढ़ाई के लिए चार लाख का एजुकेशन लोन मिलेगा, जिसमें 6 फीसदी का सब्सिडी कर्मचारियों को दिया जायेगा जबकि दो लाख रुपये सामान्य तौर पर लोन होगा.
  13. हाउस लोन की राशि को भी दो लाख रुपये से बढ़ाकर 4 लाख रुपये कर दिया गया है.
  14. बाइ-सिक्स के कर्मचारियों का एकमुश्त तीन हजार रुपये फ्लैट बढ़ोत्तरी की गयी है.
  15. सेफ्टी के तहत सौ से लेकर 1300 रुपये तक, क्वालिटी पर 100 से 1300 रुपये तक की बढ़ोत्तरी की गयी है.
  16. पर्सनल लीव (पीएल) 240 दिन का था, जिसको घटाकर 200 कर दिया गया है क्योंकि कर्मचारी छुट्टी नहीं लेते थे. कर्मचारियों को छुट्टी लेने को कहा गया है.
  17. कर्मचारी जो बहाल होते है और प्रोबेशन पीरिएड में काम करते है तो उनका वेतन या सुविधा में कोई कटौती नहीं होगी. यह राशि 35 हजार रुपये से लेकर 39 हजार रुपये तक मिलेगा
  18. कर्मचारी जो नया बहाल होगा, उसका पहला वेतन 39 हजार रुपये होगा.
  19. कैंटीन को पूरे तौर पर फ्री कर दिया गया है. सभी स्तर के कर्मचारी कंपनी में मुफ्त में खाना खा सकते है
  20. सेंट्रल ट्रांस्पोर्ट यानी गाड़ी के लिए 75 रुपये की राशि अब तक कटती थी, जिसको बढ़ाकर सौ रुपये कर दिया गया है.
  21. कर्मचारियों को क्वार्टर में अब तक पानी मुफ्त में मिलता था, जिसे समाप्त कर दिया गया है. अब कर्मचारियों को पैसा देना होगा. सभी कर्मचारियों को पानी के लिए 120 रुपये देना होगा.
  22. ग्रुप इंश्योरेंस के तहत अगर कोई दुर्घटना में कर्मचारी की मौत हो जाती है तो उसकी राशि 32 लाख रुपये होती थी, जिसकी राशि को बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दिया गया है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!