Timken wage revision – टिमकेन के कर्मचारियों का हुआ वेतन समझौता, इस माह से तीन साल तक के लिए लागू, देखिये क्या हुआ समझौता और क्या होगा कर्मचारियों को लाभ

राशिफल

जमशेदपुर : टिमकेन इंडिया कंपनी के जमशेदपुर प्लांट के कर्मचारियों का वेतन समझौता (वेज रिवीजन) संपन्न हो गया. बिना देर किये, इसे माह से इसको लागू किया जायेगा. इस समझौता को 1 मई 2023 से 30 अप्रैल 2026 तक के लिए तीन साल के लिए लागू किया गया है. इसके तहत औसतन वेतन बढ़ोत्तरी 10200 रुपये कर्मचारियों को होगा. कर्मचारी पुत्रों की बहाली के लिए भी एक पॉलिसी बनाने पर रजामंदी हुई है. इसी माह से इसको लागू भी कर दिया गया है. पहली बार टिमकेन में बिना देर किये हुए ही कर्मचारियों का वेज रिवीजन समझौता हो गया है. इस समझौता त्रिपक्षीय हुआ, जिसमें अपर श्रमायुक्त अजीत कुमार पन्ना के अलावा प्रबंधन की ओर से प्लांट जेनरल मैनेजर ऑपरेशन राजीव शास्वत, एजीएम एचआर दिनेश सिंह, एजीएम हिमांशु मिश्रा, डिवीजनल मैनेजर नितिन भटनागर, डीएम सपन मैथी, डिप्टी मैनेजर अभिषेक हर्षदीप एवं यूनियन की ओर से अध्यक्ष आस्तिक महतो, महामंत्री विजय यादव, डिप्टी प्रेसिडेंट रविन्द्र प्रसाद, अनिल पाण्डेय, उपाध्यक्ष सुधीर कुमार राय, पवन शर्मा, विरेन्द्र प्रसाद, शुभाशीष प्रधान सहायक सचिव कमलेश यादव, जयंत चट्टोपाध्याय, नरेंद्र गुप्ता, राधाकांत वर्मा एवं कोषाध्यक्ष अजय भौतिका ने हस्ताक्षर किया.
वेतन समझौता के मुख्य अंश : (नीचे भी पढ़ें)

  1. ग्रेड रिवीजन समझौता तीन साल के लिए ऑनटाइम हुआ है. इससे कंपनी को तीन साल में औसतन हर महीना एक कर्मी पर 18010 रुपये का वित्तीय बोझ पड़ेगा. इसके तहत बेसिक में 2982 रुपये, तीन साल के वार्षिक इंक्रीमेंट में 2334 रुपये, डीए तीन वर्ष में 2700 रुपये, प्रमोशन पॉलिसी में 1050 रुपये, पीएफ एवं ग्रेच्युटी में 1541 रुपये, भत्ता में 5772 रुपये एवं बोनस में 1632 रुपये यानी कुल 18,010 रुपये का वित्तीय भार एक कर्मचारी पर कंपनी को होगा.
  2. कर्मचारियों का औसत मासिक बढ़ोतरी 10200 रुपये हुई है.
  3. कर्मचारियों के बेसिक में अधिकतम मासिक 3285 रुपये एवं औसतन मासिक 2982 रुपये की बढ़ोतरी होगी.
  4. एलटीसी, जो पूर्व में ब्लॉक ईयर में 50,000 रुपये मिलता था, उसे बढ़ाकर ब्लॉक ईयर में 1,00,000 रुपये किया गया, जिसके कारण एलटीसी में मासिक 2083 रुपये का बढ़ोतरी हुई है.
  5. पर्सनल मेंटनेंस एलाउंस में मासिक 3688 रुपये की वृद्धि की गई है.
  6. वेरिएबल डीए 2 रुपये पर प्वाइंट से बढ़ाकर 2.25 रुपये पर प्वाइंट किया गया है.
  7. ग्रुप इंश्योरेंस की राशि 1,38,000 रुपये से बढ़ाकर 2,50,000 रुपये की गई.
  8. अभी तक कंपनी में रिटायरमेंट के समय जो मेडिकल लीव बैलेंस रहता था, यह लैप्स हो जाता था, लेकिन इस समझौते के अनुसार अब रिटायरमेंट के समय कर्मचारी अधिकतम 48 दिन मेडिकल लीव इनकैश करा सकते हैं.
  9. मेडिकल रेफरल केस में कर्मचारियों को मिलने वाली प्रतिदिन दैनिक भत्ता 300 रुपये से बढ़ाकर 450 रुपये किया गया.
  10. ग्रेड-रीविजन समझौते के साथ ही लंबित कर्मचारी पुत्रों के नियोजन मामले को लेकर इम्पलाएमेंट पॉलिसी बनायी गयी है, जिसके तहत आने वाले दिनों में कम्पनी में कर्मचारी पुत्रों के नियोजन में प्राथमिकता मिलेगी.
  11. कर्मचारियों के बच्चों के लिए विभिन्न कैटेगरी में 18 बच्चों को स्कॉलरशीप हर साल दिया जाता था, जिसे बढ़ाकर 20 बच्चों के लिए किया गया.
  12. हीट-ट्रीटमेंट एलाउंस 300 रुपये से बढ़ाकर 325 रुपये किया गया.
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!