jamshedpur-corona-danger-जमशेदपुर में बाजारों में घुम रहा कोरोना, रेस्टोरेंट, कपड़ा दुकान, चाय दुकानदार तक निकले पॉजिटिव, लोग खा चुके है उनके हाथों के समोसे, जलेबी, चनाचुर, सघन जांच की रिपोर्ट ने प्रशासन के भी होश उड़ाए, 165 नए मरीज आये, एक की मौत

राशिफल

जमशेदपुर : जमशेदपुर में कोरोना के नए मरीजों में गुरुवार को जमशेदपुर के बाजारों में चलाए गए सघन जांच अभियान की रिपोर्ट आई है यह रिपोर्ट काफी चौंकाने वाली है, जिसमें चाय दुकानदार, रेस्टोरेंट के कर्मचारी, कपड़े और अन्य दुकानों के कर्मचारी और मालिक तक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इससे प्रशासन के भी होश उड़ गए हैं कि आखिर कोरोना के संक्रमण के फैलाव को कैसे रोका जाए. अगर यह कहा जाए कि जमशेदपुर के बाजारों में कोरोना घूम रहा है तो यह गलत नहीं होगा. गुरुवार को जमशेदपुर में कोरोना के 165 नए मरीज मिले हैं. उनमें होटल स्टाफ, कपड़ा दुकान, राशन दुकान के स्टाफ भी शामिल हैं. गुरुवार को जो पाजिटिव मरीज मिले हैं उनमें साकची के एक बड़े होटल के 4 स्टाफ, साकची के ही एक और बड़े होटल के 4 स्टाफ, साकची के ही एक नामी फास्ट फूड रेस्टोरेंट के तीन स्टाफ और इसी बाजार के समोसा जलेबी के लिए मशहुर एक होटल के दो स्टाफ पाजिटिव मिले हैं. ये होटल स्टाफ सैकड़ों लोगों को अपने हाथ से नाश्ता खाना खिला चुके हैं. इतना ही नहीं जुगसलाई के एक बड़े कपड़ा व्यपारी के दो स्टाफ पाजिटिव पाए गए हैं. मानगो के एक मशहुर चनाचुर विक्रेता के 6 स्टाफ पाजिटिव पाए गए हैं. इनके द्वारा बनाए गए करीब 10 क्विंटल चनाचूर शहर के विभिन्न खुदरा दुकानदारों के माध्यम से सैकड़ों घरों में पहुंच चुका है. इसी तरह चकुलिया बाजार के 17 दुकानदार पाजिटिव पाए गए हैं. इसके अलावा वाटिका ग्रीन सिटी के एक ही परिवार के चार लोग, कदमा स्थित विजया गार्डेन के एक ही परिवार के तीन लोग समेत शहर के अन्य क्षेत्रों के मरीज शामिल है. जमशेदपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या अब 13995 पहुंच गई है. वहीं एक कोरोना मरीज की मौत भी हुई है. दूसरी ओर गुरुवार को 40 मरीज ठीक होकर घर गए. इस तरह से अब तक जिले के 11499 कोरोना मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं और एक्टिव केस की संख्या 2175 है. कोरोना से गुरुवार को जिस एक मरीज की मौत हुई है वे बहरागोड़ा निवासी है जिनकी उम्र 74 साल है. उसकी तबीयत बिगड़ने पर एमजीएम मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया जा रहा था, इसी दौरान रास्ते में ही उसकी मौत हो गई. इसके बाद उसके शव को एमजीएम के शवगृह में रखा गया था. शव की जांच कराने पर रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मृतक मानसिक रोग से भी ग्रस्त था. बीते पांच साल से उसकी दवा चल रही थी. जमशेदपुर में अब तक 321 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है.

[metaslider id=15963 cssclass=””]

Must Read

Related Articles