jamshedpur-corona-neglegency-जमशेदपुर में प्रशासन की कोरोना को लेकर लापरवाही, बारीडीह बस्ती में कोरोना पोजिटिव का नहीं हो पा रहा है अंतिम संस्कार, प्रशासन मदद को पीछे हटी, कमांडेंट को फोन करने पर मांगे अंतिम संस्कार के लिए रुपये, जमशेदपुर एसएसपी ने लिया संज्ञान

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : जमशेदपुर के सिदगोड़ा थाना अंतर्गत बारीडीह बस्ती में मंगलवार की सुबह मधुमेह से पीड़ित एक 42 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई. मृतक कोरोना पोजिटिव था. मृतक का शव को उसके परिजन प्रशासन की सुस्ती के कारण अभी तक अंतिम संस्कार नहीं किया जा सका है. परिजन अंतिम संस्कार करवाने के लिए दर-दर भटक रहे है. इसके लिए उन्होंने सबसे पहले सिदगोड़ा थाना में संपर्क किया. थाने में उन्हे बताया गया कि कोरोना पोजिटिव का अंतिम संस्कार जिला प्रशासन द्वारा किया जाता है. इसके बाद उन्होने कोविड हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर मामले की जानकारी दी पर वहां से भी उन्हे एक फोन नंबर प्रदान किया गया. परिजनों के द्वारा जब उक्त नंबर पर फोन किया गया तो सामने वाले ने कहा कि नंबर किसने दिया. अंतिम संस्कार करने की बात पर उसने बताया कि अंतिम संस्कार के लिए रुपये खर्च करने पड़ेंगे. इधर आर्थिक तंगी के कारण परिजन शव का अंतिम संस्कार नहीं करा पा रहे है. मामला एसएसपी एम तामिलवाणन के पास पहुंचा. उन्होने मामले को संज्ञान में लिया है. ज्ञात हो की 15 दिनों पहले मृतक को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत के बाद मर्सी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. कोरोना जांच में मृतक पोजिटिव निकला. जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने इलाज के लिए 5500 रुपये कि मांग की. रुपये नहीं होने पर परिजनों ने मृतक को होन क्वरंटाईन में रखा. मंगलवार को उसकी मौत हो गई.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply