spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
232,176,861
Confirmed
Updated on September 26, 2021 1:57 AM
All countries
207,072,099
Recovered
Updated on September 26, 2021 1:57 AM
All countries
4,755,262
Deaths
Updated on September 26, 2021 1:57 AM
spot_img

jamshedpur-tmh-corona-update-टीएमएच ने दिये बेहतर संकेत, लोग सचेत रहे तो 10 से 15 दिनों में कोरोना की रफ्तार थमने लगेगी, वैसे हालात अभी भी बेकाबू, टीएमएच में 4 दिनों में 70 की मौत, पोजिटिविटी रेट भी बढ़कर 39.64 फीसदी हुआ, टीएमएच का दो टूक-अब क्षमता और नहीं बढ़ा सकते, अस्पताल के 250 लोग ही बीमार हो गये है, नये डॉक्टर बहाल होंगे, ऑनलाइन कोरोना मरीज शुक्रवार से ले सकेंगे डॉक्टर की सलाह, सरकार के 20 ऑक्सीजन मशीन ने दी बड़ी राहत, गैर कोरोना के सिर्फ इमरजेंसी केस ही देखेगी टीएमएच, टीएमएच की सलाह-आम जनता यह करें, अगर कोरोना पोजिटिव है या लक्षण है तो यह करें

Advertisement
Advertisement
टाटा स्टील मेडिकल सर्विसेज (टीएमएच समेत) के पूर्व जीएम और टाटा स्टील के वर्तमान मेडिकल सर्विसेज के सलाहकार डॉ राजन चौधरी.

जमशेदपुर : झारखंड सरकार ने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के तहत लॉकडाउन लगा रखा है. लेकिन इससे बहुत ज्यादा फर्क नहीं पड़ रहा है. हालात यह है कि लगातार मौत हो रही है. टाटा स्टील द्वारा संचालित टाटा मुख्य अस्पताल (टीएमएच) से मंगलवार को मिली रिपोर्ट तो कुछ ऐसा ही बयां कर रहा है. टाटा स्टील के मेडिकल सर्विसेज के सलाहकार और पूर्व जीएम ने मंगलवार को पत्रकारों से ऑनलाइन बातचीत के दौरान यह जानकारी दी कि लॉकडाउन का असर दिखेगा, लेकिन यह थोड़ा जल्दबाजी होगी कुछ भी कहना. वैसे आंकड़े जो पेश किये गये, उसके अनुसार, हालात बहुत बेहतर नहीं हुए है. चार दिनों में 226 लोग कोरोना पोजिटिव होने के बाद तबीयत बिगड़ने के बाद टीएमएच में भर्ती हुए है. चार दिनों में 70 लोगों की मौत हुई है, जिसमें 53 जमशेदपुर, 11 सरायकेला-खरसावां जिला, दो पश्चिम सिंहभूम जिला, दो धनबाद और तीन अन्य जिलों के मरीज थे. औसतन 16 से 19 मौत रोजाना अभी भी हो रही है. पुरानी बीमारियों से पीड़ित लोगों की मौत ज्यादा है, लेकिन सिर्फ कोरोना के बाद बीमार हुए लोगों की मौत भी टीएमएच में हुई है. डॉ राजन चौधरी ने बताया कि 40 से 60 वाले 24 लोगों की मौत हुई है, जिसमें 16 लोग सिर्फ कोरोना से मौत हुए है, जिनको पहले से किसी तरह की कोई बीमारी नहीं थी. उन्होंने बताया कि पिछले साल के वनस्पत चार गुणा मरीजों की मौत और संक्रमितों की संख्या बढ़ी हुई है, इस कारण खतरनाक स्थिति है. यह उम्मीद है कि दस से 15 दिनों के बाद कुछ राहत हो क्योंकि महाराष्ट्र में केस घट रहे है. कोरोना का यह देखा गया है कि एक बार काफी तेज होता है और फिर नीचे जाता है और इसका तीसरा फेज भी आ सकता है. इस कारण लोगों को सचेत रहने की जरूरत है. टीएमएच में अगर पोजिटिविटी रेट यानी प्रति टेस्ट पर पोजिटिव केस की संख्या की बात की जाये तो आरटीपीसीआर और ट्रूनेट मशीन का पोजिटिविटी रेट 18 अप्रैल को 36.75 फीसदी था तो अभी 25 अप्रैल को यह पोजिटिविटी रेट बढ़कर 39.64 फीसदी हो चुका है. रैपिड टेस्ट का पोजिटिविटी रेट भी 16.62 फीसदी हो चुका है.
टीएमएच में संसाधन का पूरा इस्तेमाल, अब क्षमता बढ़ने की स्थिति नहीं, डॉक्टरों की होगी बहाली, स्वास्थ्यकर्मियों का संकट

पूर्व जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि जमशेदपुर के टीएमएच में 595 बेड हो चुके है. अभी 52 ऑक्सीजन बेड बनाये गये है, जिसमें 150 बेड जीटी हॉस्टल में है जबकि बाकि सारे बेड टीएमएच में है. इसमें 77 बेड पर वेंटिलेटर है, जिसमें 48 इनवेसिव और बाकि नन इनवेसिव वेंटिलेटर है. उन्होंने बताया कि टीएमएच को राज्य सरकार ने एचएमएफएम मशीन उपलब्ध करायी है, जिसको हाइ फ्लो ऑक्सीजन मशीन कहते है, जिससे कोरोना के मरीजों को काफी बेहतर लाभ होता है. कुल 20 इस तरह के मशीन टीएमएच को सरकार ने उपलब्ध कराये है, जिसका एक समस्या है कि उसमें ऑक्सीजन की खपत ज्यादा होती है, लेकिन इससे काफी ज्यादा लाभ होता है. पूर्व जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि टीएमएच ने अपनी क्षमता को जरूरत से ज्यादा बढ़ा लिया है और अब बढ़ाने की स्थिति नहीं रह गयी है क्योंकि 250 से ज्यादा चिकित्सक और चिकित्सा कर्मचारी कोरोना से पीड़ित हो चुके है. चिकित्सकों की बहाली निकाला जायेगा, जिसके जरिये इलाज शुरू किया जायेगा, लेकिन अभी चिकित्सक खुद बहाल होना नहीं चाहते है, इस कारण अभी समय लगेगा, इस कारण इसको बढ़ाया नहीं जा सकता है. डॉ राजन चौधरी ने बताया कि सीसीयू और आइसीयू पूरी तरह फुल हो चुका है. जैसे बेड खाली होता है, वैसे लोगों को दिलाया जाता है. उन्होंने बताया कि टीएमएच में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. हालात पूरी तरह ऑक्सीजन के मामले में कंट्रोल में है.
टीएमएच में लोग ले सकेंगे कोरोना का टेलीफोनिक सेवाएं, सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही उपलब्ध, ओपीडी और प्राइम की आंशिक सेवाएं ही

पूर्व जीएम डॉ राजन चौधरी ने बताया कि टीएमएच में नयी सेवा शुरू करने जा रहे है. कोरोना से पीड़ित लोग ऑनलाइन अपना अप्वायंटमेंट दो चिकित्सकों से ले सकेंगे. टीएमएच विश्वास के जरिये लोग अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है. गैर कर्मचारी और कर्मचारी, सारे लोग इसका लाभ ले सकते है. इसके बाद उनको टेलीफोन नंबर दिया जायेगा. उस नंबर पर लोग फोन करके अपनी सममस्या का निराकरण कर सकेंगे. लोगों को वहां कंसल्टेशन फीस ऑनलाइन पेमेंट करना होगा. जो दवा चिकित्सक देंगे, उसको लिखा हुआ लेने के लिए लोगों को आना हो सकता है या ऑनलाइन भी ले सकते है. घर तक दवा भेजने के लिए लोगों को पेमेंट करना होगा. उन्होंने बताया कि गैर कोरोना मरीजों के लिए सिर्फ इमरजेंसी सेवाओं को ही शुरू रखा गया है. ओपीडी और प्राइम में काफी कम अप्वायंटमेंट ही लोगों को मिला करेगी.
टीकाकरण अभियान में टीएमएच बनेगी पूरी तरह अगुवा

डॉ राजन चौधरी ने बताया कि एक मई से टीकाकरण का पॉलिसी बदलने जा रहा है. अभी रोजाना टीएमएच में 1500 टेस्टिंग हो रहा है. टीकाकरण अभियान में तेजी लायी गयी है. टीएमएच में अब तक 36607 लोग पहला टीका ले चुके है और दूसरा टीका 5638 लोग ले चुके है. एक मई से पॉलिसी बदलने पर टीका की उपलब्धता के आधार पर 18 साल से ऊपर के लोगों को टीका मिला करेगा.
आम जनता अगर कोरोना पोजिटिव है या लक्षण है तो यह करें

डॉ राजन चौधरी ने बताया कि आम जनता अगर कोरोना पोजिटिव है और उसमें लक्षण है तो उनको हर हाल में मास्क पहनना चाहिए. घर में भी मास्क पहनना चाहिए. लोगों को भीड़ में नहीं जाना चाहिए. खांसी और कोई भी परेशानी हो तो तीन से चार दिनों तक स्थिति पर नजर रखें. घर में ही पारासीटामोल खाये, एलेग्रा या एंटी एलर्जी की दवाएं खाये, पानी पीते रहे, अपने आपको आइसोलेट यानी अकेले में रखें. ऑक्सीमीटर से दिन में पांच से छह बार जरूर जांच करें. टेंशन नहीं लें, घबराना नहीं है. सिर्फ एहतियात बरतना है और अपने हेल्थ की जांच करते रहना है.

Advertisement
Advertisement
[metaslider id=15963 cssclass=””]

Advertisement
Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow
Advertisement

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!