spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
266,127,241
Confirmed
Updated on December 6, 2021 10:50 AM
All countries
237,995,167
Recovered
Updated on December 6, 2021 10:50 AM
All countries
5,270,938
Deaths
Updated on December 6, 2021 10:50 AM
spot_img

jharkhand-covid-alert-झारखंड में कोरोना से बचने के लिए अब हो सकती है इन दवाओं का इस्तेमाल, दो नयी दवाएं इस्तेमाल का दिया गया निर्देश, लेकिन संभलकर करें इसका इस्तेमाल

Advertisement

रांची : झारखंड के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना को देखते हुए नये दवाओं के इस्तेमाल की इजाजत दी है ताकि लोग कोरोना से अपना बचाव कर सके. झारखंड के स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग ने कोविड-19 संक्रमण से बचाव एवं उपचार के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है. कोविड-19 (प्रोफिलेक्सिस इन कांटैक्ट-prophylaxis in contacts यानी संपर्कों के रोगनिरोध) रोग के संर्पक में आये व्यक्तियों में रोग के संभावित संक्रमण से बचाव के लिए 200 यूजी/केजी शारीरिक वजन के दर से पहले एवं सातवें दिन रात्रि भोजन के 2 घंटे बाद वयस्क व्यक्ति में औसतन 12 एमजी औषधि देने की बात की गई है. कोविड-19 (प्रोफिलेक्सिस इन हेल्थ केयर वर्कर-prophylaxis in health worker) के उपचार एवं नियंत्रण में कार्य कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों में संक्रमण से बचाव हेतु 200 यूजी/केजी शरीर (अधिकतम 12 एमजी) की मात्रा से पहले, सातवें व तीसवे दिन तथा आवृत्ति क्रम में प्रत्येक माह एक बार इनवरमेक्टिन (invermectin)का प्रयोग करने के लिए कहा गया है. कोविड-19 (कोविड पोजिटिव के इलाज के लिए) रोग से संक्रमित व्यक्तियों के उपचार हेतु कोविड-19 के (ए सिम्पटोमैटिक और माइल्ड सिम्प्टोमैटिक) रोगियों को इंवरमेक्टिन (invermectin) की 200 यूजी/केजी शारीरिक वजन (अधितम 12 एमजी प्रतिदिन की मात्रा से पहले तीन दिन तक रात्रि में एक बार भोजन के 2 घंटे बाद दिया जाना है. साथ ही टैबलेट डॉक्सीसाइक्लिन (tab doxycyclin) 100 एमजी दिन में 2 या 5 दिन तक दिये जाने की सलाह दी गई है. प्रधान सचिव, स्वास्थ्य विभाग ने जारी किये गए दिशा-निर्देश में बताया है कि टैबलेट डॉक्सीसाइक्लिन (tab doxycyclin) एवं इंवरमेक्टिन (invermectin) गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को एवं 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को यह औषधी नहीं दिया जाना है. उन्होंने इस बाबत निदेशक रिम्स, सभी प्राचार्य, चिकित्सा महाविधालय, झारखण्ड राज्य के अन्तर्गत सभी सिविल सर्जन को अपने संस्थानों में इसे उपयोग करने की सलाह दी है. पूर्व में इस संबंध में दिनांक 21 सितम्बर 2020 को निदेशक प्रमुख, स्वास्थ्य सेवाएं की अध्यक्षता में कोविड-19 के संक्रमण के प्रादुर्भाव, प्रसार, बचाव, रोकथाम एवं उपचार हेतु इनवरमेक्टिन टैबलेट (invermectin tablet) की भूमिका के संबंध में स्टेट क्लिनिकल मैनेजमेंट कमेटी ऑफ कोविड-19 सेंटर ऑफ एक्सीलेंस रिम्स रांची के तकनीकि विशेषज्ञों द्वारा इनवरमेक्टिन टैबलेट (invermectin tablet)के प्रयोग किये जाने संबंधी बैठक में उपरोक्त निर्णय लिये जा चुके है. डॉ दयाल नोडल ऑफिसर आइडीएसपी, डॉ प्रावीन कर्ण स्टेट डेमोलॉजिस्ट और एवं डॉ अमेन्द्र कुमार डब्ल्यूएचओ ने भाग लिया.

Advertisement
Advertisement
[metaslider id=15963 cssclass=””]

Advertisement
Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!