tata-main-hospital-टीएमएच में कोरोना का एक दिन में होगा 1000 तक टेस्ट, नयी मशीनें पहुंची, कोरोना टेस्ट का रेट घटा

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : टाटा स्टील द्वारा संचालित टाटा मुख्य अस्पताल (टीएमएच) में कोरोना वायरस की जांच में और तेजी लायी जा रही है. इसके तहत नये उपकरण मंगा लिये गये है. टीएमएच में कोरोना वायरस का अभी जांच 330 तक हो रही थी, जिसको बढ़ाककर करीब एक हजार तक किया जाना है, जो आहिस्ता-आहिस्ता तक बढ़ता रहेगा. अभी 330 तक टेस्टिंग टीएमएच में हो चुकी है. पुरानी व्यवस्था के तहत 330 टेस्टिंग की जा चुकी है जबकि इसको बढ़ाकर 500 किया जाना है और आने वाले दिनों में 1000 टेस्टिंग की जा सकती है.

Advertisement
Advertisement
टीएमएच के ओपीडी में बन रहा नया टेस्टिंग सेंटर.

टीएमएच में नये उपकरण को लाया जा चुका है और लगाने का काम भी तेज हो चुका है. इसके बाद ऑटोमेटिक टेस्टिंग की सुविधाएं शुरू हो जायेगी. इसके लिए टीएमएच के ओपीडी के पहले मंजिल में टेस्टिंग का नया सेंटर ही विकसित कर दिया जा रहा है, जहां नयी मशीनों को लगाया जा रहा है. टाटा स्टील ने टीएमएच में नया टेस्टिंग मशीन आरएनए एक्सट्रैक्टर लगाने की तैयारी कर रही है और काम काफी तेज हो चुका है. नयी मशीनों को लगा दिया गया है. दूसरी ओर, झारखंड सरकार ने कोरोना टेस्ट की कीमत में कमी ला दी है. सरकार की ओर से जारी अधिसूचना के तहत अब निजी लैब में 2400 रुपये में ही कोरोना का टेस्ट कराना होगा. अब तक 4500 रुपये लगता था. टीएमएच ने भी फैसला लिया है कि राज्य सरकार के आदेश के मुताबिक, अब 4500 की जगह 2400 रुपये में ही टेस्टिंग हो सकेगा. इसकी पुष्टि टाटा स्टील की प्रवक्ता ने की है और बताया है कि सरकार के गाइडलाइन का अनुपालन कराया जायेगा. गौरतलब है कि टाटा स्टील में टीएमएच को ही कोविड वार्ड के रुप में विकसित किया गया है. कोविड वार्ड में 280 बेड है, लेकिन 600 बेड को तैयार रखा गया है. टीएमएच के नर्सिंग हॉस्टल और जीटी हॉस्टल में भी बेड को तैयार करके रखा गया है. जमशेदपुर और सरायकेला-खरसावां जिले के कोरोना पोजिटिव मरीजों को यहां लाया जा रहा है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply