adityapur-news-आदित्यपुर: 36 घंटे तक चले हाईप्रोफाइल ड्रामे के बाद थाना ने ही लूटकांड के आरोपी को थाने से ही दे दिया जमानत, पैरवी कर रहे लोग जश्न मनाते थाने से ले गए आरोपी को, रास्ते से पुलिस ने हिरासत में लेकर भेजा जेल

Advertisement
Advertisement
जमानत पर छूटकर थाने से निकला आरोपी बिट्टू सिंह

सरायकेला : सरायकेला- खरसावां जिले के आदित्यपुर थाने में बुधवार की रात से जारी हाईप्रोफाइल मामले में पल- पल बदलते नाटकीय घटनाक्रम में लूटकांड के आरोपी बिट्टू सिंह को पहले थाने से ही जमानत दे दिया. जहां से थाने के बाहर पैरवी कर रहे लोग विजेता की तरह बिट्टू सिंह को जश्न मनाते हुए अपने साथ ले गए. उधर घटना में नाटकीय मोड़ उस वक्त आया जब आदित्यपुर थाना पुलिस ने बीच रास्ते से ही आरोपी को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया. वैसे इसके पीछे क्या खेल हुआ ये तो थाना, आरोपी और पैरवीकार ही बता सकते हैं. उधर आरोपी को जेल भेजते ही आरोपी के परिजन आदित्यपुर थाना पहुंचे और अपने बेटे को निर्दोष बताते हुए आदित्यपुर थाना पुलिस पर कई संगीन आरोप लगाते हुए साजिश के तहत जेल भेजने की बात कही इस दौरान शर्मा बस्ती के दर्जनों महिलाएं नौजवान एवं पुरुष मौजूद रहे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
थाने के बाहर रणनीति बनाते खाखीधारी और रसूखदार. इसमे एक अन्य आरोपी बिट्टू नंदी भी है जो पुलिस के जवान के साथ खड़ा है

वही पीड़ित ठेकेदार बबन सिंह ने पुलिस की कार्रवाई पर संतोष जताते हुए मामले का खुलासा करने और अपने साथ हुए घटना में लूटे गए चार लाख रुपए, सोने का चेन और ब्रेसलेट बरामद कराए जाने की उम्मीद जताई. वैसे श्री सिंह ने यह भी कहा कि मामले में जो दोषी हैं, उन्हें ही पुलिस गिरफ्तार करे. गौरतलब है कि बीते बुधवार को आदित्यपुर थाना अंतर्गत इंडस्ट्रियल एरिया के समीप भोला होटल के पास ठेकेदार बबन सिंह के साथ बिट्टू नंदी और बिट्टू सिंह नामक युवक ने हथियार के बल पर मारपीट करते हुए लेबर पेमेंट के लिए लाए गए चार लाख रुपयों से भरा बैग, सोने का चैन और ब्रेसलेट लूट लिया था. जिसकी शिकायत ठेकेदार ने देर रात आदित्यपुर थाने में दर्ज कराई थी. वैसे पुलिस ने बिट्टू सिंह को घटना के दिन ही गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन बुधवार से लेकर शुक्रवार दोपहर तक थाना और थाने के बाहर पैर विकारों और रसूखदार ओ का जमावड़ा लगा रहा यहां तक की आरोपी बिट्टू सिंह को आदित्यपुर थाने से ही जमानत पर रसूखदार और पैरवीकार अपने साथ जश्न मनाते हुए छुड़ा ले गए, लेकिन अचानक से मामले में नाटकीय मोड़ आया और आरोपी को आदित्यपुर थाना पुलिस ने बीच रास्ते से ही फिर से हिरासत में ले लिया और आनन-फानन में सरायकेला जेल भेज दिया.

Advertisement
फाइल फोटो.

वैसे इस नाटकीय घटनाक्रम ने एक बार फिर से आदित्यपुर थाने में प्रेशर पॉलिटिक्स का नजारा देखने को मिला. आपको बता दें, कि रसूखदार और पैरवीकारों में सफेद पोश से लेकर खाकी वर्दी तक थाने के बाहर विचरण करते नजर आए. फिलहाल आरोपी को जेल भेजने के बाद पीड़ित ठेकेदार बबन सिंह ने राहत की सांस ली है. हालांकि अभी भी लूट के रुपए और सोने के चेन एवं ब्रेसलेट की बरामदगी होनी बाकी है. वैसे ठेकेदार बबन सिंह अभी भी भयभीत हैं, और पुलिस से अपनी सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply