व्हाट्सएप्प के माध्यम से रंगदारी मांगने और मुसाबनी में पोस्टरबाजी करने के आरोप में चार युवक गिरफ्तार, गये जेल

Advertisement
Advertisement

घाटशिला : मुसाबनी थाना क्षेत्र में विगत कई माह से व्हाट्सएप्प के माध्यम से लोगों को नक्सली के नाम पर लेवी मांगने और लोगों को धमकाने का काम कर रहे चार युवकों को पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर धर दबोचा है. पुलिस ने बताया कि दिनांक 8-9 जुलाई की रात मुसाबनी थाना क्षेत्र के बकरा पुल, गोहला स्कूल, बागजाता माइंस के बाउंड्री, गुड़ाबांधा थाना क्षेत्र के भालकी और धालभूमगढ़ थाना क्षेत्र के डेरांग पूल के पास यात्री शेड में भाकपा माओवादी उग्रवादी संगठन के नाम पर फर्जी पोस्टर तैयार कर चिपका दिए थे. उसके बाद सुनाराम हेम्ब्रम द्वारा सॉफ्टवेयर की मदद से विदेश के नंबर से व्हाट्सएप्प एकाउंट बनाया और उसी नंबर से माओवादी (उग्रवादी) संगठन के नाम पर रंगदारी की मांग करते थे. पुलिस ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर 8-9 जुलाई की रात में जमशेदपुर जिला के थाना क्षेत्र एवं गुड़ाबांधा थाना क्षेत्र में माओवादी (उग्रवादी) संगठन के नाम पर नक्सली पोस्टर चिपकाए जाने से संबंधित मामले की जांच एवं सम्मलित व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस अधीक्षक ग्रामीण जमशेदपुर के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन कर छापामारी कर संजीत सोरेन, सुनाराम हेम्ब्रम उर्फ डीजे उर्फ सुनील, अनिल टुडू और भोगान सोरेन को गिरफ्तार किया गया है. पदाधिकारियों ने बताया कि पकड़े गए चारों आरोपी अपने एक अन्य साथी प्रेमचंद टुडू उर्फ मोटू के साथ मिलकर लोगो को माओवादी के नाम पर डराकर रंगदारी वसूलने के लिए एक गिरोह बनाये थे. पिछले साल विधानसभा चुनाव के एक दिन पहले मुसाबनी थाना क्षेत्र में डर पैदा करने के लिए घाघराकोचा पूल पर नक्सली के नाम पर पोस्टर लगाए थे. पदाधिकारियों ने बताया कि सुनाराम हेम्ब्रम द्वारा सॉफ्टवेयर की मदद से विदेश के नंबर से व्हाट्सएप्प एकाउंट बनाया और उसी नंबर से इनलोगो द्वारा व्हाट्सएप्प, कॉल और मैसेज कर के गोहला निवासी जगदीश चंद्र पाल नामक व्यक्ति से भाकपा माओवादी उग्रवादी संगठन के नाम पर 35000 रुपये की रंगदारी की मांग की थी और उसी को डराने के लिए उसके दुकान की तरफ जा रहे थे कि पुलिस के हत्थे चढ़ गए. साथ ही इनलोगो के निशानदेही पर जांगल में छिपा कर रखा गया एक नाली बंधूक भी बरामद किया गया है. पदाधिकारियों ने कहा कि बरामदगी में एक देशी कट्टा, एक जिंदा कारतूस, एक सिंगल बैरल बंधूक, दो मोटरसाइकिल, एक प्रिंटर, चार मोबाइल सेट मिले है. पदाधिकारियों ने कहा कि मुसाबनी थाना में कांड संख्या 49/2020 दिनाँक 18/07/2020 धारा 25 (1)(a) 26/35 शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर चारो आरोपियों को जेल भेज दिया गया है. वहीं थाना में उक्त लोगो के खिलाफ कांड संख्या 48/2020 दिनाँक 15/07/2020 धारा 387 भादवी के तहत मामला दर्ज है. छापेमारी दल में पुलिस उपाधीक्षक मुसाबनी पीताम्बर सिंह खैरवार, मुसाबनी अंचल पुलिस निरीक्षक नरेश प्रसाद सिन्हा, मुसाबनी थाना प्रभारी संजीव कुमार झा, पुअनि विष्णु रजक, दीपक कुमार, सअनि राजेश कुमार, रामविनय सिंह समेत अन्य शामिल थे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply