jamshedpur-administration-action-जमशेदपुर में आपके रसोई तक पहुंचने वाले गैस सिलेंडर से हो रही गैस की चोरी, भुइयांडीह और सीतारामडेरा में लगातार दूसरे दिन छापा, अवैध गैस गोदाम सील, public-alert-बिना गैस का वजन जांचे नहीं लें रसोई गैस, जानें कैसे चोरी हो रहा आपके हिस्से का गैस, क्या करें, कितना होता है वजन-video

Advertisement
Advertisement
गैस एजेंसी का गोदाम सील करते अधिकारी.

जमशेदपुर : जमशेदपुर जिला प्रशासन की ओर से शहर में अवैध गैस कटिंग गिरोह के खिलाफ सक्रिय तौर पर अभियान चला रहा है. आपको बता दें कि शुक्रवार से ही जिला प्रशासन की टीम शहर के अलग-अलग इलाकों में अवैध रूप से गैस कटिंग किए जा रहे संदिग्ध स्थानों पर छापेमारी शुरू कर दी है. जो शनिवार को भी जारी रहा. टीम ने इस दौरान भुइयांडीह और सीतारामडेरा इलाके में छापेमारी करते हुए एक गोदाम को सील करते हुए घरेलू सिलिंडर और रिफिलिंग के लिए लाए गए सिलिंडरों को जब्त करते हुए एक युवक को हिरासत में लिया है, जिससे पूछताछ की जा रही है. वैसे गोदाम का मालिक भागने में सफल रहा, जिसके खिलाफ मामला दर्ज करते हुए गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी गई है. वैसे जिला प्रशासन के इस कार्रवाई के बाद शहर के गैस कारोबारियों में हड़कंप मच गया है. बताया जा रहा है कि लगातार शहर के अलग-अलग इलाकों से अवैध रूप से गैस कटिंग कर महंगे दामों में बेचने की सूचनाएं जिला प्रशासन को मिल रही थी. जिसके बाद प्रशासन ने यह कार्रवाई की है. (नीचे पढ़े, कितना वजन होना चाहिए, कैसे होती है ठगी)

Advertisement
Advertisement
Advertisement
प्रशासनिक पदाधिकारी.

कैसे चलता है यह खेल, आपके घर की रसोई में पहुंचता है कम गैस, ठगे जाते है आप
सूत्रों की अगर मानें तो इस पूरे खेल के पीछे गैस एजेंसी में काम करने वाले डिलीवरी ब्वॉय की बड़ी भूमिका है. इसके अलावा कई जगह एजेंसी के लोग भी इसमें शामिल होते है. बताया जाता है कि डिलीवरी ब्वॉय और अवैध कारोबारी हर सिलिंडर से थोड़ा-थोड़ा गैस निकालकर एक सिलिंडर भरते हैं, जिसे उपभोक्ताओं को ऊंचे कीमतों में बेचते हैं. गैस सिलेंडर देने वाला आपके घर जब पहुंचता है तो उसमें से कुछ गैस कम होता है, जिसमें से निकाला गया है, वह गैस डिलीवरी हो जाती है. आप और हम बिना चेक किये हुए ही गैस का सिलेंडर ले लेते है और आपको हर माह का चपत लग जाता है. इस कारण लोगों से अपील है कि आप जब भी कोई गैस देने आये तो उसका वजन जरूर कराये. आपको बता दें कि आपको वजन करके लेने का अधिकार है. घरेलू सिलेंडर में 14 किलो 200 ग्राम गैस होना जरूरी है. सरकारी प्रावधान के अनुसार बिना वजन के कोई सिलेंडर दे रहा है तो वह एजेंसी अपराध कर रहा है. जारी आदेश के अनुसार गैस एजेंसी को और जो गैस की डिलीवरी देता है, वह अपने पास 50 किलो की क्षमता का ऐसा वजन करने वाला मशीन रखे ताकि लोग वजन कर सके और 10 ग्राम तक सटीक वजन बता सके. (नीचे पढ़े कितना होता है वजन जानें)

Advertisement

कितना होता है वजन जानें
किसी भी तेल कंपनी की गैस सिलेंडर हो, उसमें गैस 14 किलो 200 ग्राम वजन का होना चाहिए. खाली सिलेंडर का वजन 15 से 16 किलो तक का होता है. सिलेंडर के ऊपर में यह वजन लिखा होता है. भरे हुए सिलेंडर का कुल वजन 30 किलो 200 ग्राम होगा. इससे कम वजन हुआ तो आप उसकी शिकायत कर सकते है और आप समझ सकते है कि गैस सिलेंडर की चोरी हुई है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply