jamshedpur-mango-crime-मानगो में भाजपा नेता पर गोली चलने और अपराधी सैंकी यादव की हत्या एक दूसरे से जुड़ा, भाजपा नेता राजेश सिंह को पुलिस ने पूछताछ के लिए बैठाया, पहले सैंकी यादव की ईंटा-पत्थर से कर दी गयी हत्या, फिर खुद पर गोली चलवाने का भाजपा नेता राजेश सिंह पर आरोप, सिटी एसपी ने खुद संभाला पूछताछ का मोरचा, सैंकी के परिवार ने किया खुलासा, सुनिये परिवार के लोगों और सिटी एसपी ने क्या कहा-video

राशिफल

रोता बिलखता सैंकी यादव का परिवार.

जमशेदपुर : मानगो में अपराधी सैंकी यादव की हत्या और भाजपा नेता राजेश सिंह पर हत्या करने के मामले के तार एक दूसरे से जुड़ा हुआ है. इसका खुलासा लगभग होने जा रहा है. पुलिस इन दोनों कांड के तह तक पहुंच चुकी है. दोनों घटना के घटने के बाद जमशेदपुर के सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट ने खुद मोरचा संभाल लिया है और एमजीएम थाना में अपने ऊपर गोली चलाने की शिकायत करने पहुंचे भाजपा नेता राजेश सिंह और उनके समर्थकों को ही थाने में बैठा लिया है और उससे सघन पूछताछ की जा रही है. पुलिस को सैंकी यादव के परिवार के लोगों ने बताया है कि खुद राजेश सिंह अपने समर्थकों के साथ सैंकी यादव के घर गये थे. राजेश सिंह ने घर में घुसकर पहले उसकी पिटाई की थी और फिर निकल गये थे.

सैंकी यादव की मां.

उसको साथ लेकर राजेश सिंह द्वारा चले जाने का आरोप परिवार के लोगों ने लगाया है, जिसके बाद भाजपा नेता राजेश सिंह को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है. आपको बता दें कि पिछले दिनों ही राजेश सिंह पर गोली चली थी, जिसके पीछे सैंकी यादव की बात सामने आयी थी. उसी का बदला लेने के लिए राजेश सिंह द्वारा सैंकी यादव की हत्या करा देने की बात सामने आयी है. हालांकि, अब तक पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही है.

सैंकी यादव का परिजन.

पुलिस को यह सूचना मिली है कि सैंकी यादव को पहले पीटकर मार डाला गया और फिर खुद राजेश सिंह ने अपने लोगों की मदद से अपने ऊपर ही गोलियां चला दी. हालांकि, पुलिस दूसरे एंगल से भी जांच कर रही है कि कहीं सैंकी यादव की हत्या का बदला लेने के लिए किसी अपराधी ने जवाबी कार्रवाई करते हुए राजेश सिंह पर तो गोली नहीं चलायी. वैसे पुलिस का दावा है कि कुछ घंटो के भीतर ही इस कांड का खुलासा कर दिया जायेगा. वैसे यह कहा जा रहा है कि ईंटा पत्थर से ही कूचकर उसकी हत्या कर दी गयी है, जिसका खुलासा को लेकर पुलिस कोशिश कर रही है.

सैंकी यादव के साथ पुरानी दुश्मनी के कारण इस हत्याकांड को अंजाम दिये जाने की बात सामने आयी है. सैंकी यादव अभी तड़िपार था, जो अभी जमानत कराने के लिए जमशेदपुर आया था और अपने घर पर गया था कि राजेश सिंह के लोगों ने उसको देख लिया, जिसके बाद यह हमला बोल दिया गया. वैसे पुलिस मामले की जांच कर रही है और अभी यह कोशिश हो रही है कि पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाये.

[metaslider id=15963 cssclass=””]

Must Read

Related Articles