Jamshedpur-Mango-Gulshan-Chowdhary-murder-case : मानगो के गुलशन चौधरी हत्याकांड में मुख्य आरोपी ने उगले कई राज, रुपये व मोबाइल चोरी के बाद बनायी थी गुलशन को मारने की योजना

राशिफल

जमशेदपुर : मानगो थाना क्षेत्र के दाईगुट्टू निवासी गुलशन कुमार चौधरी की हत्या के मामले में मुख्य हत्यारोपी इमरान ने कई राज उगले हैं। इमरान की रिमांड अवधि सोमवार को पूरी हो गई। मानगो पुलिस ने उससे 48 घंटे पूछताछ की। रिमांड अवधि पूरी होने के बाद सोमवार को पुलिस ने इमरान को वापस घाघीडीह जेल भेज दिया। इमरान ने पुलिस को बताया की 21 मई की रात गुलशन चौधरी के साथ उसने शराब पी थी। उसी दिन गुलशन ने उसकी मोबाइल और रुपया चुरा लिया था। तभी गुलशन को मारने का प्लान इमरान ने तैयार कर लिया था। (नीचे भी पढ़ें)

दूसरे दिन 22 मई की रात मानगो चौक के पास से अपने साथियों के साथ मिलकर उसने गुलशन को पकड़ लिया और बाइक पर ले जाकर जवाहर नगर रोड नंबर 14 स्थित अपने घर के पास उससे घर वालों को फोन कर रुपए मंगाने को कहा। गुलशन ने फोन पर इमरान का नाम अपने पिता को बता दिया था। इसके बाद इमरान ने अपने साथियों के साथ मिलकर गुलशन के साथ मारपीट की। जब वह अधमरा हो गया तो उसका पत्थर से सिर कूच दिया और झाड़ियों में शव फेंक दिया। उसकी बाइक मस्जिद के पास खड़ी कर बिहार भाग गया था। गौरतलब है कि इस मामले में पुलिस ने शमशाद, समीर अहमद, परवेज अंसारी, साकिब और दानिश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मुख्य आरोपी इमरान फरार चल रहा था। 30 मई को इमरान ने कोर्ट में सरेंडर किया था। इसके बाद पुलिस ने उसे रिमांड पर लिया था।

Must Read

Related Articles