jamshedpur-sub-inspector-death-case-गोलमुरी पुलिस लाइन में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर की मौत के मामले में पत्नी व ससुर पर दर्ज हो सकता है हत्या का केस, बेटे की मौत को पिता ने ठहराया है हत्या का मामला, एक व्यक्ति से कई बार बात करती थी दिवंगत सब इंस्पेक्टर की नवब्याहता पत्नी, मौत के बाद लगातार बयान बदल रही उसकी पत्नी

Advertisement
Advertisement
गोलमुरी पुलिस लाइन में मारे गये असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर तरुण कुमार पांडेय की फाइल तस्वीर.

जमशेदपुर : जमशेदपुर के गोलमुरी पुलिस लाइन में दस अगस्त 2020 को असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (एएसआइ) तरुण कुमार पांडेय की खुद को गोली मारने के मामले में पुलिस हत्या का मामला दर्ज कर सकती है. इस मामले में अब तक अस्वाभाविक मौत (यूडी केस) का मामला दायर किया गया है. इस मामले में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर तरुण कुमार पांडेय के पिता बाल सुधा पांडेय ने जमशेदपुर के एसएसपी डॉ तमिल वणन से बातचीत की थी और एक पत्र सौंपकर अंदेशा जताया था कि उसके बेटे की उसकी बहु ने ही हत्या करायी होगी. तरुण कुमार पांडेय के आवेदन के आधार पर जमशेदपुर के एसएसपी डॉ एम तमिल वणन ने मामले की जांच शुरू करा दी है, जिसमें यह बातें सामने आयी है कि उसकी पत्नी का कॉल डिटेल रिकॉर्ड को खंगाला गया है, जिसमें यह बातें सामने आयी है कि वह एक व्यक्ति से शादी के बाद भी लंबी बातें कर रही थी. इस मामले को लेकर अब तक कोई स्पष्ट जानकारी जमशेदपुर पुलिस ने उपलब्ध नहीं करायी है. इस मामले में जमशेदपुर के एसएसपी डॉ एम तमिल वणन ने कहा है ”इस मामले में पहले यूडी कांड दर्ज हुआ है और उनके पिता के आवेदन के आधार पर पत्नी का सीडीआर और अन्य डिटेल लिया जा रहा है. यदि हत्यी साबित होती है तो यूडी केस को मर्डर केस में कंवर्ट किया जायेगा.”

Advertisement
Advertisement
Advertisement
असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर की मौत के बाद की तस्वीर.

मृतक के पिता बाल सुधा पांडेय ने अपने बेटे की मौत को सुसाइड नहीं बल्कि हत्या करार दिया है. उन्होंने हत्या का आरोप मृतक तरुण की पत्नी और अपनी बहू पर लगाया है. उन्होंने अपने आवेदन में बताया है कि उनके बेटे तरुण की मौत आत्महत्या नहीं बल्कि एक सोची समझी साजिश है. उनके मुताबिक उनकी बहू का मोबाइल घटना के बाद से ही उनके पास है. बहू शादी से पहले किसी लड़के के साथ संबंध में थी. शादी के बाद भी वह उस लड़के से बात करती थी. बहू के मोबाइल का कॉल डिटेल निकालने पर यह बात साफ हो जाएगी. इसके अलावा उन्होंने एसएसपी को बताया कि बहू मौत के बाद बार-बार अपना बयान बदल रही थी. कभी वह कहती थी कि वह घटना के वक्त किचन में खाना बना रही थी तो कभी वह कहती थी कि तरुण ने उसके सामने खुद को गोली मारी. इसके अलावा उसने बताया कि वह जमशेदपुर से अपने पति के साथ पटना से अपने पति के साथ अकेले ही आई थी जबकि घटना वाले दिन उसके बहू के पिता भी वहां मौजूद थे. यह जांच का विषय है. साथ ही बहू ने अपने बयान में बताया था कि तरुण ने नाश्ता बनाने की बात कहकर खुद को अंदर जाकर गोली मार ली जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आया है कि तरुण के आमाशय में कुछ खाने की चीजें बरामद हुई है. इन सभी बातों से यह बात सामने आती है कि उनकी बहू ने उनकी हत्या कर दी और इसे आत्महत्या करार दिया जा रहा है. मृतक के पिता ने एसएसपी से गुहार लगाई कि इस मामले में अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज ना कर हत्या का मामला दर्ज किया जाए और इस मामले की जांच की जाए. ज्ञातव्य है कि 10 अगस्त 2020 को गोलमुरी पुलिस लाइन में एसआई तरुण कुमार पांडे ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी इसका कारण अवसाद बताया गया था.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement