jamshedpur-3-big-tragedy-जमशेदपुर के ग्रामीण इलाके में 3 बड़ी घटना, 5 की मौत, वज्रपात से 3 छात्र की मौत, डूबने से 2 की मौत

Advertisement
Advertisement

घाटशिला : जमशेदपुर के ग्रामीण क्षेत्र डुमरिया थाना क्षेत्र के धोलाबेड़ा पंचायत की चट्टानीपानी गांव में सोमवार की शाम मैदान में गाय और बकरी चराने के दौरान वज्रपात (बिजली गिरना) होने से दोनों छात्रों की मौत हो गई है. मिली जानकारी के अनुसार मरने वालों में चट्टानीपानी गांव निवासी संग्राम टुडू के पुत्र प्रधान टुडू (17 ) भालुकपातड़ा उच्च विद्यालय में 10वी का छात्र है. वही फागु टुडू की बेटी जोबा रानी टुडू (15) केजीबीवी स्कूल हांड़दा के 9 वीं की छात्रा है. दोनों की विद्यालय कोरोना महामारी के लाॅक डाउन होने से बंद है. जिस कारण दोनों विद्यार्थी घर पर रह रहें थे, इसी कारण वे दोनों घर से सोमवार अपने मवेशी लेकर मैदान चराने गये थे. इसी बीच चिरूगोड़ा जगदीश मुर्मू के खेत में बैल बकरी को चरा ही रहें थे कि वज्रपात हुआ और घटना स्थल पर ही दोनों की मौत हो गई है. वही बेल और बकरी की भी मौत हो गई है. घटना की सूचना पाकर बीडीओे मुरली यादव और थाना प्रभारी प्रशिक्षु, एएसआई दुधनाथ राम पहुंचकर मामले की जानकारी ली और शव को कबजे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. गांव में एक साथ दो विद्यार्थी की हुई मौत से गांव में मातम पसरा हुआ है. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. वही घाटशिला के मऊभंडार निवासी छात्र संदीप दास ( 14) पड़ोस के घर के छप्पर पर चढ़कर प्लास्टिक लगा रहा था. इसी बीच वज्रपात होने से उसकी मौत हो गई है.

Advertisement
Advertisement

धालभूमगढ़ में डूबने से दो की मौत, समधी डूबने लगे तो बचाने में गई एक और जान

Advertisement
Advertisement
Advertisement

घाटशिला के नूतनगढ़ पंचायत के जोडशोल के एक तालाब में में नहाने के दौरान दो व्यक्तियों की डूबने से मौत हो गयी. वहीं घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी है. दोनों रिश्ते में समधी बताए जाते हैं. घटना के संबंध में बताया जाता है कि बिहिंदा निवासी रामू हेंब्रम अपने समधी जोड़सोल निवासी सागर किस्कू के साथ गांव के ही तालाब में एक साथ नहा रहे थे, इसी बीच जोरदार बारिश होने लगी और वज्रपात भी हुआ. काफी देर तक जब दोनों व्यक्ति तालाब से बाहर नहीं निकले तो किसी अनहोनी की आशंका पर स्थानीय लोगों के साथ परिजनों ने तालाब में दोनों को तलाशने लगे. काफी खोजबीन के बाद दोनों को तालाब से निकाला गया. जिन्हें आनन-फानन में घाटशिला अनुमंडल अस्पताल ले जाया गया. जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया. बताया जाता है कि तालाब इतना गहरा भी नहीं था, कि दोनों की डूबने से मौत हो जाए. साथ ही यह भी बताया जा रहा है, कि दोनों को तैरना भी आता था. ऐसे में आशंका जताई जा रही है, कि वज्रपात के कारण ही दोनों की मौत हुई है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement