spot_img

jharkhand-big-news-आदित्यपुर और रांची से विंध्याचल धाम दर्शन करने गया परिवार समेत नाव पलटी, आदित्यपुर के भाजपा के बूथ कार्यकर्ता की पत्नी और ढाई माह की बेटी समेत समेत 6 लोग नदी में समां गये, लापता, 6 लोग किसी तरह बचे, शव खोज रहे गोताखोर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शव खोजने के लिए लगायी पूरी ताकत, बड़ी घटना के बाद आदित्यपुर और रांची में गम का माहौल

राशिफल

मिर्जापुर घाट में डूबने की घटना के बाद के हालात.

मिर्जापुर/रांची/आदित्यपुर : उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में विंध्याचर धाम के अखाड़ा घाट पर रांची और सरायकेला-खरसावां जिला (आदित्यपुर) से गये श्रद्धालुओं से भरा नाव पलट गया. जब नाव पलटा तब नाव में एक साथ 12 लोग मौजूद थे. इसमें से छह लोगों की मौत हो गयी है, जिनका शव बरामद किया जा चुका है जबकि छह लोग अब भी लापता है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरी टीम को वहां उतार दिया है ताकि शवों को निकाला जा सके. खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर शोक जताया है जबकि रांची और आदित्यपुर में शोक का माहौल हो चुका है. आदित्यपुर के बाबाकुटी आश्रम एरिया के रहने वाले मिश्रा भवन निवासी भाजपा के बूथ कार्यकर्ता दीपक मिश्रा, उनकी पत्नी निशा मिश्रा और उनके दो माह की बेटी को साथ लेकर रांची गये थे. (नीचे पूरी खबर पढ़ें)

बूथ अध्यक्ष है आरआईटी मंडल बूथ 193 का अध्यक्ष दीपक मिश्रा उर्फ भोला अपनी पत्नी के साथ पत्नी और डेढ़ महीने की बच्ची डूब गई है.अपनी बहन और बहनोई के साथ दीपक मिश्रा बहन का नाम खुशबू तिवारी है यह भी डूब गई है

रांची के धुर्वा के रहने राले राजेश तिवारी और उनका परिवार के साथ दीपक मिश्रा और उनका परिवार विंध्याचल दर्शन के लिए निकले थे. रांची निवासी राजेश तिवारी दीपक मिश्रा के बहनोई है. दोनों परिवार एक साथ ही दर्शन के लिए बुधवार की दोपहर पहुंचा और दर्शन करने के बाद दोनों परिवार नाव पर सवार होकर गंगा स्नान करने गये. वहां से लौटते वक्त यह हादसा हो गया. उस वक्त नाव पर नाविक के अलावा चार पुरुष, तीन महिलाएं और पांच बच्चे सवार थे. इस दौरान किसी तरह लोगों ने 6 लोगों की जान बचायी, लेकिन 6 लोग लोग अब भी लापता है. मौके पर डीआइजी रामकृष्ण भारद्वाज को कूच कर दिया गया है. वहां के डीसी अजय कुमार ने बताया कि जहां से नाव जा रही थी, वहां से नाव ले जाने पर मनाही है. (नीचे पूरी खबर पढ़ें)

मिश्रा भवन, आदित्यपुर में गम का माहौल का दृश्य.

उसके बाद भी लोग नाव पर सवार होकर गये. क्षेत्र के एसपी भी दल बल के साथ पहुंचे थे. बचे हुए लोगों ने बताया कि नदी के उस पार नहाने की अच्छी व्यवस्था थी, जिस कारण वे लोग वहां से गये थे. वहीं परिजनों ने बताया कि पानी बरसने लगा तो वे लोग नाव वाले को मना किया, लेकिन वो नहीं माना और वे लोग डूब गये. इस घटना के बाद किसी तरह 6 लोगों को बचाया जा सका. बचने वाले लोगों में राजेश तिवारी, विकास, दीपक मिश्रा, अल्का 9 साल, रितिका 7 साल और नाव चालक.वहीं, निशा मिश्रा, सत्यम, खूशबू और गुड़िया लापता है. इनके साथ ढाई माह का बच्चा भी लापता है. इस घटना के बाद क्षेत्र में गम का माहौल है.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!