spot_img
मंगलवार, मई 11, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

jharkhand-border-security-against-naxal-झारखंड, बंगाल और ओड़िशा के राज्यों की पुलिस ने बनायी नक्सलियों से निबटने की ठोस रणनीति, सीमा का लाभ उठाने वाले नक्सली या तो सरेंडर करें, या जान से धोयेंगे हाथ, डीआइजी कोल्हान के स्तर पर हुई तीनों राज्यों की पुलिस की बैठक

Advertisement
Advertisement

चाईबासा : नक्सलियों पर नकेल कसने को लेकर मंगलवार को कोल्हान प्रमंडल के सीमावर्ती राज्यों के पुलिस पदाधिकारियों के साथ नक्सल नियंत्रण को लेकर कोल्हान पुलिस उपनिरीक्षक राजीव रंजन सिंह द्वारा विशेष बैठक जिला उपायुक्त समाहरणालय के एनआईसी भवन में की गई. बैठक में सीमावर्ती क्षेत्र में नक्सल अभियान को तेज करना और नक्सली गतिविधि को कम करने पर विशेष चर्चा की गई. उक्त बैठक कोल्हान रेंज के पुलिस उप महानिरिक्षक (डीआइजी) राजीव रंजन सिंह के अध्यक्षता में हुई जिसमें कोल्हान के तीनों जिला के पुलिस अधीक्षक व पदाधिकारी भाग लिए. बैठक में झारखंड, ओड़िशा और पश्चिम बंगाल के सीमावर्ती क्षेत्र के पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे. डीआइजी कोल्हान राजीव रंजन सिंह की अध्यक्षता में उपायुक्त चाईबासा के सभागार के एनआइसी कक्ष में एनआइसी के माध्यम से पश्चिम बंगाल एवं ओड़िशा के सीमावर्ती जिलों के पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अंतराराज्यीय बैठक आयोजित की गयी.

Advertisement
Advertisement

इसमें डीआइजी राउरकेला वेस्टर्न जोन कविता जलान, डीआइजी सीआरपीएफ चाईबासा एचएस रावत, जमशेदपुर के एसएसपी डॉ तमिल वाणन, पश्चिम सिंहभूम जिले के एसपी इन्द्रजीत महाथा, झारग्राम के एसपी अमित कुमार भरत राठौर, राउरकेला के एसपी शिया स्ब्रमाणी, मयूरभंज ओड़िशा के एसपी परमार स्मिथ परषोतम दास, ओड़िशा के क्योंझर एसपी मित्रभानु महापात्रा, सरायकेला-खरसावां के एसपी मो अर्शी, ओड़िशा के सुंदरगढ़ के एसपी सागरिका नाथ, पुरूलिया पश्चिम बंगाल के एसपी एस सेल्वा मुरूगन, जमशेदपुर के सिटी एसपी सुभाष चन्द्र जाट, सरायकेला के एएसपी राकेश रंजन, सीअआरपीएफ के कमांडेंट प्रेमचन्द, सीआरपीएफ चाईबासा के कमांडेंट आनन्द कुमार जेराई, सीआरपीएफ के चाईबासा परमा शिवा, सीआरपीएफ जमशेदपुर के कमांडेंट पो फुसाजो इपरो, सीआरपीएफ सरायकेला के कमांडेंट बिरसा उरांव, एएसपी जमशेदपुर गुलशन तिर्की, डीएसपी सुधीर कुमार समेत अन्य लोग मौजूद थे.

Advertisement

इन बिन्दुओं पर हुई चर्चा :

Advertisement
  1. नक्सल / अपराध सम्बन्धी आसूचना एवं आदान – प्रदान
  2. संयुक्त नक्सली अभियान सम्बन्धी कार्य योजना
  3. बोर्डर चेक पोस्ट के गठन के सम्बन्ध में निर्णय
  4. अन्तर्राज्जीय गिरोह की सक्रियता एवं कार्रवाई के सम्बन्ध में
  5. साथ ही यह निर्णय लिया गया कि नक्सलियों को बॉर्डर का फायदा नहीं लेने दिया जाएगा तथा आपस में क्लोज को-र्डिनेशन के माध्यम से अभियान चलाना है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!