spot_img
सोमवार, मई 17, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

बिहार का कुख्यात कोढ़ा गैंग यूं चढ़ा झारखंड पुलिस के हत्थे, जानिए कैसे हुआ सम्भव

Advertisement
Advertisement
गिरफ्तारी के बाद पुलिस अधिकारियों को सम्मानित करते गोड्डा एसपी.

गोड्डा : झारखंड के गोड्डा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. जहां जिले के एसपी ने गुप्त सूचना पर अपने नेतृत्व में टीम का गठन कर बिहार के कुख्यात कोढ़ा गिरोह के एक अपराधकर्मी को धर दबोचा. बाकि अपराधकर्मी भागने में सफल हो गए. वहीं पकड़े गए अपराधकर्मी से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम राजकपूर यादव उर्फ रंजन यादव उर्फ अमन यादव उर्फ राजकुमार यादव बताया. जो बिहार के कटिहार जिले के कोढ़ा थाना अंतर्गत जुराबगंज का रहनेवाला बताया जाता है. उक्त अपराधकर्मी की तलाशी लेने पर उसके पास से एक लोडेड देशी पिस्टल एवं 315 का एक राउण्ड गोली एवं एक मोबाईल बरामद किया गया. वहीं जिले के एसपी शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल ने बताया कि गिरफ्तार अपराध कर्मी द्वारा अपने स्वीकारोक्ति बयान में बताया गया है कि वे लोग बैंक से पैसा निकालने वालों की रेकी करते हैं और पैसा निकालकर जाते वक्त सुनसान जगह पर झपट्टा मारकर तथा मोटरसाईकिल की डिक्की को तोड़कर पैसा लेकर भाग जाते हैं. उन्होंने बताया कि सभी अभियुक्तों के विरूद्ध गोड्डा नगर थाना कांड सं0-244/19, दिनांक-29.09.19, धारा-25(1-b)A(a)/35 Arms Act के अन्तर्गत प्राथमिकी दर्ज किया गया है. एसपी ने बताया कि अपराधकर्मियों द्वारा भागलपुर(तिलकामांझी) थाना कांड सं0-863/19, दिनांक-26.09.19, धारा-356/379 भा0द0वि0 में 70,300 रूपए की छिनतई एवं भागलपुर(जोकसर) थाना कांड सं0-864/19, दिनांक-27.09.19, धारा-356/379 भा0द0वि0 में 04 लाख रूपये की छिनतई करने की घटना को अंजाम दिया गया है. यह गैंग पिछले 15 वर्षों से सक्रिय है और पिछले 03 वर्षों में लगभग 40 से ज्यादा काण्ड कर चुका है. जिसमें गोड्डा जिला के 02 काण्ड, बिहार राज्य के बांका, भागलपुर, पटना, सुपौल, लक्खीसराय, बेगुसराय, मधेपुरा, मोतिहारी, कटिहार, मुजफ्फरपुर में 33 काण्ड तथा असम राज्य के 06-07 काण्डों में वांछित है. उन्होंने बताया कि शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर लगातार छापामारी अभियान चलाया जा रहा है. वहीं पुलिस अधीक्षक ने टीम में शामिल सदस्यों को प्रशस्ति पत्र देकर पुरस्कृत भी किया.

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!