गदड़ा में छेड़खानी का विरोध करने पर पड़ोसी ने पड़ोसी समेत उसकी बेटियों को मारपीट कर किया घायल, अस्पताल में भरती, घटना के तीन दिन बाद भी पुलिस मौन

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : परसुडीह थाना अंतर्गत गदड़ा स्थित न्यू बस्ती, ड्राइवर कॉलोनी में पिछले 16 जुलाई की रात लगभग 10:30 बजे रामेश्वर प्रसाद, उनका बेटा संतोष प्रसाद, आनंद प्रसाद, मौसी का लड़का रोहित आयुष, उनकी बेटी पूजा कुमारी, पत्नी संजू देवी सारे लोगों ने एकजुट होकर अपनी पड़ोसी संजय श्रीवास्तव एवं उनकी लड़की अंकिता श्रीवास्तव, सुप्रिया श्रीवास्तव, पिंकी कुमारी को रड, बल्ला एवं तेज हथियार से मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया. हमलावरों ने संजय श्रीवास्तव के गला, पैर,हाथ, पीठ, छाती,पेट पर तेज प्रहार किए हैं, जिसके कारण उनकी पीठ, पैर व हाथ पर गहरी चोटें आयी हैं और शरीर पर भी चोट का निशान भी बना हुआ है. इसके अलावा उनके पैर और हाथ में काफी गहरी चोट लगने के वजह से टूट गया है. भुक्तभोगी के परिजनों ने बताया कि चोट लगने के बाद संजय श्रीवास्तव वहीं पर बेहोश हो गए. किसी तरीके से परिजनों ने उन्हें एमजीएम पहुंचाया. वहां जाकर होश आया. वहीं दूसरी तरफ संतोष प्रसाद के द्वारा छेड़खानी किए जाने पर अंकिता श्रीवास्तव के विरोध करने पर उसे भी बेरहमी से मार कर दो अंगुली तोड़ दी गयी है, जिसके कारण वे लोग एमजीएम में भर्ती हैं. डॉक्टरों ने उनके टूटे हाथ व उंगलियों पर प्लास्टर कर दिया है. संजय श्रीवास्तव में मुख्य रूप से जमीन विवाद का मामला बताया. उन्होंने बताया कि उनके पड़ोसी रामेश्वर प्रसाद व उनके बेटे उनके घर व जमीन को हड़पना चाहते हैं. इस कारण उनकी बेटियों से अक्सर छेड़खानी करते रहते हैं. ताकि वे घर छोड़ कर अन्यत्र चले जायें और वे उनके घर व जमीन पर कब्जा कर लें. घटना की सूचना सुप्रिया श्रीवास्तव ने लिखित रूप में परसुडीह थाना को दी है. मगर अब तक अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. गिरफ्तारी नहीं होने के कारण अभियुक्त बार-बार गाली गलौज करने से बाज नहीं आ रहे हैं. इस कारण संजय श्रीवास्तव एवं उनकी सभी बेटियां काफी भयभीत हैं. संजय श्रीवास्तव की बेटी न्याय के लिए दर-दर भटक रही है और उन लोगों की धमकी से अपने पूरे परिवार को जान का खतरा भी बता रही है.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply