saraikela-naxal-सरायकेला में पोस्टरबाजी करते दो सक्रिय नक्सली गिरफ्तार

Advertisement
Advertisement

सरायकेला : सरायकेला-खरसावां पुलिस को नक्सलियों के खिलाफ एकबार फिर से बड़ी कामयाबी मिली है. जहां खरसावां व कुचाई पुलिस ने रविवार देर रात महाराज प्रमाणिक दस्ते के दो सक्रिय सदस्य गंगाराम उर्फ गोंचे व सोयना सरदार को रंगेहाथ नक्सली पोस्टर चिपकाते गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि गंगाराम कुचाई थाना क्षेत्र में और सोयना सरदार खरसावां थाना क्षेत्र में प्रशासन व सरकार के खिलाफ नक्सली पोस्टर चिपका रहे थे. इन्हें पुलिस के गश्ती दल ने रंगेहाथ पकड़ा. खरसावां थाना प्रभारी सनोज कुमार चौधरी ने जानकारी देते हुए कहा कि रविवार को कुचाई थानांतर्गत बांडी के गंगाराम उफ गोंचे क्षेत्र में नक्सली पोस्टर लगा रहे थे, इसी दौरान पुलिस के गश्ती दल ने उसे नक्सली पोस्टर लगाते रंगे हाथ गिरफ्तार किया. उन्होंनें बताया कि खरसावां थानांतर्गत चैतनपुर के सोयना सरदार को भी खरसावां पुलिस के गश्ती दल ने नक्सली पोस्टर चिपकाते हुए रंगे हाथ पकड़ा है. वहीं खरसावां थाना प्रभारी ने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों ने बताया कि वे महाराज प्रमाणिक दस्ते के सक्रिय सदस्य हैं और क्षेत्र में ग्रामीणों को सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ भड़काने का काम करते हैं. उन्होंनें कहा कि खरसावां व कुचाई थाना क्षेत्र में ग्रामीणों को सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ भड़काने के लिए पोस्टर चिपकाने में उनकी सक्रिय भूमिका रहती है. नक्सली दस्ता के इशारे पर वे क्षेत्र में आतंक फैलाने के लिए ग्रामीणों को धमकी देते हैं और नक्सलियों के खिलाफ पुलिस को सूचना देने वालों की जुबान बंद रखने के लिए डराते-धमकाते हैं. खरसावां थाना प्रभारी ने कहा कि उन्होंने पुलिस को बताया कि नक्सली दस्ते को पुलिस की गतिविधियों की जानकारी देते हैं तथा नक्सली कांड को अंजाम देने में वे दस्ता के साथ शामिल रहते हैं. महारज प्रमाणिक के कहने पर ही वे कुचाई एवं खरसावां नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सरकार व प्रशासन के खिलाफ नक्सली पोस्टर चिपका रहे थे. वहीं कुचाई व खरसावां पुलिस ने इनके विरुद्ध मामला दर्ज कर न्यायालय में प्रस्तुत किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply