पश्चिमी सिंहभूम : जगन्नाथपुर पुलिस ने फिल्मी स्टाइल में टेबलेट के साथ युवक को किया गिरफ्तार

Advertisement
Advertisement

चाईबासा : जगन्नाथपुर पुलिसवालों पर बहुत अधिक फिल्में बनाई जाती है इसका कारण यह है कि पुलिसवाले ही रियल जिंदगी में असली कलाकार होते है। इसी का एक नमूना मंगलवार को जगन्नाथपुर थानाक्षेत्र में देखने को मिला, जब सादा ड्रेस पहने थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक ने फिल्मी स्टाइल में युवक लंकेश्वर बोबोंगा को चोरी के टेबलेट के साथ जगन्नाथपुर बाजार से रंगे हाथ गिरफ्तार किया और गिरफ्तार युवक को बुधवार को जेल भेज दिया।

Advertisement
Advertisement

कैसे हुई गिरफ्तारी
थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक को गुप्त सूचना मिली थी कि एक युवक मोबाइल टेबलेट लेकर जगन्नाथपुर बाजार में बेचने के लिए आया है ओर लोगो को टेबलेट खरीदने के लिए आग्रह कर रहा है। उक्त सूचना पर त्वरित करवाई करते हुए सदा ड्रेस में थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक पुलिस पदाधिकारी ओर पुलिस जवान के साथ बाजार पहुँचे तथा गुप्त सूचना के द्वारा बताये गए हुलिया के युवक को देखकर थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक ने उससे पूछा क्यो भाई क्या बेच रहे हो? (युवक ने थाना प्रभारी को नही पहचान पाया) वह बोला एक मोबाइल (टेबलेट) बेचना चाहते है, कितना में बेचोगे टेबलेट? 3,000 में युवक बोला। अच्छा दिखाओ, युवक ने टेब खोलकर दिखाया जिसमे झारखंड सरकार का लोगो लगा हुआ था, थाना प्रभारी ने कहा ये तो सरकारी टेबलेट है। कहाँ मिला? इतना सुनते ही युवक भागने का कोशिश करने लगा, तब तक थाना प्रभारी मोदक ने युवक को चोरी के टेबलेट के साथ पकड़ लिया, अब युवक समझ गया कि वह पुलिस के गिरफ्त में आ चुका है। युवक के निशानदेही पर पुलिस के द्वारा उत्क्रमित मध्य विद्यालय कलैया से चुराए गए अन्य सामानों को भी बरामदगी की गई है।

Advertisement

क्या है मामला
थाना प्रभारी मोदक ने बताया कि उत्क्रमित मध्य विद्यालय कैलेया से एक टेबलेट, एक पंखा, सौलर प्लेट आदि सामानों की चोरी हुई थी जिसमे प्रधानाचार्य गोवर्धन पान के लिखित आवेदन पर जगन्नाथपुर थाना काण्ड संख्या 47/20 दि0 03/06/20 अज्ञात चोरों के विरुद्ध दर्ज किया गया था। उसी कांड में युवक लंकेश्वर बोबोंगा को चोरी किये गए सामग्री के साथ गिरफ्तार किया गया है।

Advertisement

गिरफ्तारी/छापामारी दल में शामिल पुलिस पदाधिकारी
थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक, (परि0)अ0नि0 निर्भय कुमार, रंजीत कुमार, अनुसंधानकर्ता तारकनाथ सिंह, स अ नि नंदकिशोर सिंह व आरक्षी बिल्लु महतो गिरफ्तारी दल में शामिल थे।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply