health-tips-दिल की तंदूरुस्ती से लिए अपनाएं ये चीजें, जानें कार्डियक अरेस्ट के मरीजों को किन चीजों का भूलकर भी नहीं करना चाहिए सेवन

राशिफल

शार्प भारत डेस्क : इन दिनों बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक बीमारियों की जंगीरों में जकड़े हुए है. वहीं अब यह कहना मुश्किल है कि हार्ट प्रॉब्लम्स की शिकायत सिर्फ बुजुर्गों में ही देखने को मिलती है. इसकी चपेट में अब बच्चें से लेकर, युवा भी आ रहे है. वहीं कुछ लोगों में ये दुविधा होती है कि हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट एक ही चीज है. लेकिन हां ये हृदय संबंधित बीमारी जरूर है पर दोनों अलग-अलग बीमारी है. हार्ट की नसे जब ब्लॉक हो जाए तो उसे हार्ट अटैक कहते है. वहीं जब हृदय में इलेक्ट्रिकल गति संबंधित गड़बड़ी हो या यूं कहे तो इलेक्ट्रिकल गति अनियमित हो जाने से धड़कन असामान्य हो जाती है. इन दोनों चीजों से बचने के लिए नियमित रूप से व्यायाम, स्वस्थ आहार, धूम्रपान और शराब पीना बंद, खाने से परहेज शामिल है. (नीचे भी पढ़ें)

स्वस्थ आहार में इन सब्जियों का करें सेवन- स्वस्थ रहने के लिए स्वस्थ आहार का सेवन करना जरूरी है. वहीं हृदय की गति पर भी स्वास्थ का खानपान निर्भर करता है. वहीं इसमें कार्बोहाइड्रेट, शुगर और ऑयली फूड आपके हृदय के लिए नुकसानदायक हैं. इसके अलावा सब्जियों के साथ-साथ फल का भी सेवन करना जरूरी है.
गाजर- गाजर में प्रचुर मात्रा में आयन, पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेड, प्रोटीन और विटामिन ए आदि मौजूद होता है. जिसे हार्ट से संबंधित या हार्ट की तंदुरुस्ती के लिए इसका सेवन अवश्य करें.
(नीचे पढ़ें पूरी खबर)

पालक- पालक में आयरन, कैल्शियम, फोलेट, विटामिन के गुण पाए जाते है. जिससे शरीर में हीमोग्लोबीन की कमी नहीं होती है. वहीं इसका सेवन करने से दिल भी स्वस्थ रहता है. ब्रोकली- ब्रोकली खाने से हार्ट हेल्दी रहता है. वही इसे खाने से लिवर की समस्या भी दूर होती है. ब्रोकली में आयरन, प्रोटीन, कौल्शियम पाया जाता है. जिसे हम सूप, सलाद और सब्जी के तौर पर भी खा सकते है. (नीचे भी पढ़ें)

तनाव से रहे दूर- हृदय रोग के लिए तनाव से दूर रहना जरूरी है. इस दौरान नियमित रूप से योग और ध्यान का अभ्यास करना जरूरी है. इससे व्यक्ति तनाव मुक्त रह सकता है. (नीचे भी पढ़ें)

अच्छी नींद जरूरी- नींद की कमी से हाई ब्लड प्रेसर और डायबटीज की समस्या बढ़ने लगती है. वहीं इनके बढ़ने से हृदय गति रुकने की समस्या हो सकती है. इसलिए हृदय संबंधित लोगों को अच्छी और भरपूर नींद लेनी जरूरी है. कम करें वजन- मोटापा दिल के दौरे का प्रमुख चालकों में से एक है. इसके लिए नियमित रुप से व्यायाम करें, स्वस्थ खाना खाए और वजन कम करने की कोशिश करें. व्यायाम जरूरी- हार्ट को हेल्दी रखने के लिए नीयमित रुप से व्यायाम करना जरूरी है. व्यायाम हमारे शरीर के साथ-साथ हमारे दिल को भी हेल्दी रखता है. रोजाना कार्डियक वाले मरीजों को व्यायाम के लिए आधा घंटा अवश्य देना चाहिए. वहीं अगर यह संभव नहीं हो तो 15 मिनट जरूर दे. (नीचे भी पढ़ें)

कार्डियक अरेस्ट में इन चीजों का भूलकर भी सेवन ना करें-
कार्डियक अरेस्ट खानपान और जीवनशैली में गड़बड़ी के कारण उत्पन्न होती है. आम तौर पर मंसाहारी लोगों को दिल की बीमारी का खतरा अधिक होता है. इसलिए ज्यादा तेल मसाले वाले भोजन, चिप्स, पिज्जा, बर्गर, कुकीज, मैंदे के पदार्थ, मीठे पेय पदार्थ जैसी पदार्थों से दूरी ही बना कर रखे.

शराब है खतरनाक- ठंड के दिनों में अक्सर कार्डियक अरेस्ट का खतरा बढ़ जाता है. वहीं दिल को स्वस्थ रखे के लिए शराब, तंबाकू, सिगरेट जैसी पदार्थों से दूरी बनानी चाहिए. (नीचे पढ़ें पूरी खबर)

अधिक नमक है हानिकारक- दिल के मरीजों के लिए अधिक नमक भी हानिकारक ही है. वहीं इससे हाई ब्लड प्रेशर की समस्या भी उत्पन्न होती है. वहीं एक्सपर्ट्स की माने तो एक दिन में छह ग्राम से अधिक नमक नहीं खाना चाहिए. (नीचे भी पढ़ें)

नोट : यह जानकारी केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें.

Must Read

Related Articles