गुड़ाबांदा : स्वर्णरेखा नदी के कटाव से 20 एकड़ से भी अधिक खेत पानी में, रतजगा कर रहे भयाक्रांत ग्रामीण

Advertisement
Advertisement
  • विधायक व बीडीओ ने बालीजुड़ी का दौरा कर लिया वस्तुस्थिति का जायजा
  • विधायक ने जल संसाधन विभाग के सचिव को दी जानकारी, सचिव ने कहा-विशेषज्ञों की टीम भेज किया जायेगा समाधान 

गुड़ाबांधा : गुड़ाबांदा प्रखंड स्थित बालीजुडी गांव के ग्रामीणों ने विधायक कुणाल षाड़गी को बताया कि पिछले दो दिनों की बारिश से स्वर्णरेखा नदी से सटा भू-भाग नदी के बहाव और वर्षा की पानी से कट चुका है. करीब 20 एकड़ से ज्यादा खेत नदी में समा चुके हैं. सूचना पाकर विधायक श्री षाड़गी व गुड़ाबांदा की बीडीओ सीमा कुमारी ने प्रभावित गांव का दौरा कर  वस्तुस्थिति की जानकारी ली. बीडीओ सीमा कुमारी के साथ विधायक मौके पर पहुंचे, तो स्वर्णरेखा नदी का उग्र रूप भयावह था.कई एकड़ खेत नदी में समा चुके हैं और भय के मारे ग्रामीण रात को सो नहीं पा रहे हैं. विधायक ने  जल संसाधन विभाग के सचिव से दूरभाष पर बात कर जानकारी दी और उचित पहल करने की बात कही. सचिव ने इस समस्या के स्थायी समाधान के लिए एक एक्सपर्ट टीम भेजने का वायदा किया, जो परिस्थिति देख कर सर्वश्रेष्ठ समाधान तलाशेगी. फिलहाल अस्थायी समाधान के तौर पर मनरेगा के अंतर्गत मेढ़ बनाने का काम शुरू होगा. विधायक ने कहा कि गुड़ाबांधा के दौरे के क्रम में  बालीजुडी गांव पहुंचने पर पाया कि उस गांव के राणा टोला में कई विधवाओं को आवास व अन्य सरकारी सुविधाएं नहीं मिली हैं. विधायक ने तुरंत बीडीओ सीमा कुमारी को आम्बेडकर आवास की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया. उसी गांव में कई लोगों के लिये राशन कार्ड, विधवा पेंशन व अन्य योजनाओं की भी प्रक्रिया भी शुरू करने को कहा. विधायक ने कहा कि जल्द बनेगी राणा टोला मे आरईओ सड़क से राणा टोला तक पीसीसी सड़क. इस दौरान असीत मिश्रा, पिनाकी सीट समेत कई ग्रामीण उपस्थित थे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement