सरायकेला-जमशेदपुर पुलिस का दबाव काम आया, अपहर्ताओं के चंगुल से छूटकर जुगसलाई पहुंची लड़की, गैंगरेप कर लड़की को छोड़ने की आशंका, गुस्से में सिख

Advertisement
Advertisement
जुगसलाई थाना में चल रही पूछताछ के दौरान मौजूद परिजन.

जमशेदपुर : सरायकेला-खरसावां ज़िले के पुडिसिली यानी जमशेदपुर के सोनारी दोमुहानी नदी पर बने नए पुल के उस पार अपहृत लड़की को रात करीब 11.45 बजे खुद छोड़ दिया. बताया जाता है कि अपराधियों ने उस लड़की को छोड़ दिया, जिसके बाद वह खुद जुगसलाई पहुंच गई. जुगसलाई पहुंचकर उसने अपने परिजनों को फ़ोन किया.

Advertisement
Advertisement
पुलिस हिरासत में लड़का अंशु जिसके साथ लड़की घूमने वहां गई थी

इसके बाद जमशेदपुर और सरायकेला-खरसावां ज़िले की पुलिस ने उस लड़की को लेकर जमशेदपुर की जुगसलाई थाना पहुंची, जहां जमशेदपुर और सरायकेला-खरसावां के एसपी ने लड़के और लड़की से पूछताछ की.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
सरायकेला-खरसावां एसपी कार्तिक एस

लड़की का मेडिकल जांच भी कराई जाएगी ताकि यह साफ हो सके कि लड़की के साथ सामुहिक बलात्कार हुआ है या नही.

Advertisement
जुगसलाई थाना में जुटी भीड़

पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है और लड़के और लड़की से अलग अलग पूछताछ कर रही है. दूसरी ओर, सिख समुदाय में इस घटना को लेकर काफी गुस्सा देखा जा रहा है.

Advertisement
बरामद की गई लड़की के परिजन

सिख समुदाय के प्रधान गुरुमुख सिंह मुखे और सरदार शैलेंद्र सिंह जुगसलाई थाना में पहुंचकर अपना विरोध जताया. पुलिस से इन लोगो ने मांग की है कि लड़की सिख समुदाय से है और उसके साथ अन्याय करने वाले को कड़ी से कड़ी सजा मिले.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement