सिदगोड़ा : नौकरानी पर चोरी का आरोप लगाने पर रजक समाज ने किया थाने पर प्रदर्शन

Advertisement
Advertisement
सिदगोड़ा थाना पर जुटी महिलाओं को समझाते पुलिस पदाधिकारी.

जमशेदपुर : सिदगोड़ा में नौकरानी पर चोरी का आरोप लगाने के खिलाफ रजक समाज और झारखंड पीपुलस पार्टी के लोगों ने मंगलवार को सिदगोड़ा थाने पर प्रदर्शन किया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की. नारेबाजी में थाना के एएसआइ शिव कुमार राम को कटघरे में खड़ा किया गया था. रजक समाज के लोगों का आरोप था कि एएसआई शिव कुमार राम ने नौकरानी के साथ गाली-गलौज और बदसलूकी की है. रजक समाज के लोग जब इस मामले में गए थे. तब उनके साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं किया गया. पूरे प्रकरण को देखते हुए 2 दिनों पूर्व रजक समाज की ओर से एक बैठक का आयोजन शिवपुरा किया गया था. बैठक में मुख्य रूप से नौकरानी को प्रताड़ित करने और थाने में रखकर उसे प्रताड़ित करने के मामले में चर्चा की गई थी. पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत रजक समाज के लोग आज सिदगोड़ा थाने पर पहुंचे और थाने पर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन करने वाले लोगों का कहना था कि मकान मालिक मनोज सिंह ने नौकरानी सीमा रविदास पर झूठा आरोप लगाया है.

Advertisement
Advertisement
सिदगोड़ा थाना पर प्रदर्शन करते लोग.

सीमा पिछले 3 सालों से उसके मकान में काम कर रही थी, लेकिन कभी भी उसने शिकायत का मौका नहीं दिया था. अचानक उसपर चोरी का इल्जाम लगाना बेबुनियाद मामला है. रजक समाज ने नौकरानी का नाम एफआईआर से हटाने की मांग की है. अगर ऐसा नहीं होता है तो समाज के लोग एसएसपी से इसकी शिकायत करेंगे. मनोज सिंह ने चोरी का जो मामला थाने में एक सप्ताह पहले दर्ज कराया था उसमें चोरी का डेट नहीं था. जब उसकी पत्नी ने लॉकर खोलकर अपने जेवरातों को बाहर निकाला था, तब उसने देखा था कि कुछ जेवर कम है. इसके बाद शक के आधार पर नौकरानी के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. पुलिस ने नौकरानी को घटना के बाद ही हिरासत में ले लिया था, लेकिन इसकी जानकारी रजक समाज के लोगों को मिल जाने पर पुलिस ने दबाव में आकर नौकरानी को छोड़ दिया था. रजक समाज के लोग नौकरानी सीमा रविदास के साथ सिदगोड़ा थाने के सामने धरना पर बैठ गए हैं. धरना पर बैठे समाज के लोगों का कहना है कि जब तक इस मामले में एएसआइ के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है तब तक वे धरना पर से नहीं हटेंगे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement