15 करोड़ सोना के साथ टाटानगर स्टेशन से एक व पटना से तीन सोना तस्कर पकड़ाया, कंडोम व कमर में बांधकर छिपा रखा था सोना, जानिये पूरा मामला

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर/पटना : पटना स्थित डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटीलिजेंस (डीआरआइ) ने पटना स्टेशन और टाटानगर रेलवे स्टेशन पर अलग-अलग छापामारी की है. इस छापामारी में करीब 11 करोड़ रुपये का स्विटजरलैंड से लाया जा रहा सोना बरामद किया गया है. पहले गुरुवार को गुप्त सूचना के आधार पर डीआरआइ की टीम ने पटना जंक्शन से पहले अमृतसर के रहने वाले अशोक कुमार, अभिमन्यु कुमार और अर्जुन कुमार को गिरफ्तार किया. उनकी तलाशी ली गयी तो उनके पॉकेट से कंडोम बरामद किया गया. कंडोम में ही सोना छिपाकर रखा गया था. अलग-अलग टुकड़े में कंडोम में रखा गया था और कुछ सोना उन लोगों ने कमर में भी बांध रखा था. गुरुवार को ये सारे लोग नयी दिल्ली से चलने वाली नयी दिल्ली पटना संपर्क क्रांति ट्रेन से उतरे थे. उनकी ही निशानदेही पर डीआरआइ की एक टीम ने टाटानगर रेलवे स्टेशन पर भी छापामारी की. देर रात को पुणे जाने वाली आजाद हिंदी एक्सप्रेस में छापामारी कर डीआरआइ ने जमशेदपुर के धातकीडीह के रहने वाले सीवन नाग को पकड़ा, जिसकी तलाशी ली गयी तो उसके पास से दो किलो सोना पाया गया. वैसे पटना में पहले से 3.3 करोड़ रुपये मूल्य का सोना बरामद किया जा चुका है. सीवन नाग भी कमर के अंदर ही सोना को छिपाकर रखा था. ये सारे सोना की सप्लाइ आजाद हिंद एक्सप्रेस से रायपुर में उतरकर कर देना था. एस-3 बलोगी में सीवन नाग की बुकिंग थी, जिसके आधार पर उसको तत्काल पकड़ लिया गया. पटना उसको ले जाया गया है. बताया जाता है म्यांमार के रास्ते मणिपुर होते हुए भारत में ये तस्कर स्वीटरलैंड से सोने को लेकर आये है और इसकी सप्लाइ देश के विभिन्न हिस्सों में करना था कि डीआरआइ ने धर-दबोचा.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement