spot_img

adityapur-big-crime-three-murder-आदित्यपुर में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में तीन की मौत के बाद दहशत, गैंगवार में गई जान, देखिये-video, कैसे-कैसे हुई ये तीनों हत्याएं-video

राशिफल

मारे गए तीनो युवक

आदित्यपुर : सरायकेला- खरसावां जिला के आदित्यपुर थाना क्षेत्र में अपराधियों के हौसले बुलंद है. जहां हर 15 दिनों में अपराधी किसी न किसी घटना को अंजाम देकर पुलिस के समक्ष बड़ी चुनौती पेश कर रहे हैं. बीते 6 महीनो में गैंगवार के कारण 7 लोगों की हत्या हो चुकी है. ताजा मामला सतबोहनी का है. जहां बेखौफ अपराधियों ने बीती रात 3 युवकों पर जानलेवा हमला कर दिया जिसमें तीनों की मौत हो गई है. मरने वालों में आशीष गोराई, राजीव उर्फ राजू गोराई और सुबीर चटर्जी हैं. इनमें से आशीष गोराई का आपराधिक इतिहास रहा है. आशीष कांग्रेसी नेता शान बाबू हत्याकांड मामले में जेल जा चुका है. (नीचे देखे पूरी खबर)

बताया जा रहा है कि बीती रात शेरू और छोटू राम यादव नमक अपराधियों ने अन्य अपराधियों के साथ मिलकर ने घर के समीप मैदान में बैठकर पार्टी मना रहे आशीष गोराई, सुबीर चटर्जी और राजीव गोराई को घेरकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई. जिसके बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. किसी को कुछ समझ में आता देखते ही देखते तीनों, मौके पर ही ढेर हो गए. जब तक पुलिस पहुंची और तीनों को इलाज के लिए अस्पताल लेकर जाती तीनों की मौत घटनास्थल पर ही हो चुकी थी. हालांकि मामले की जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने औपचारिकता के तौर पर तीनों युवकों के शव को टाटा मुख्य अस्पताल (टीएमएच) पहुंचाया. जहां चिकित्सकों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया. (नीचे देखे पूरी खबर)

पुलिस इसे गैंगवार से जोड़कर देख रही है. आशीष गोराई और छोटू राम गैंगस्टर संतोष थापा का सहयोगी था. तीनों शान बाबू हत्याकांड में जेल गया था. एसपी अनंद प्रकाश ने मामले पर खुद मोर्चा संभाल रखा है. हालांकि इस संबंध में उन्होंने कुछ भी बोलने से मना कर दिया है. फिलहाल मामले की छानबीन जारी है. वहीं परिजनों ने बताया कि 3 दिन पूर्व छोटू और आशीष के बीच झगड़ा हुआ था. इसको लेकर दोनों के बीच तनाव चल रहा था. बताया कि हत्यारों ने सबसे पहले आशीष को गोली मारी, इसी दौरान राजीव गोराई और सुधीर चटर्जी को भी गोली मार दी, ताकि इस घटना का कोई साक्ष्य ना रहे. बताया कि सभी एक ही गिरोह के सदस्य है. सूत्रों के अनुसार लड़की को लेकर छोटू और आशीष के बीच 3 दिन पूर्व विवाद हुआ था. यह घटना उसी का परिणाम है. फिलहाल पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है. वहीं घटना के बाद तीनों के घरों में मातम छा गया है. घटना के बाद से संतोष थापा का मोबाइल स्विच ऑफ बताया जा रहा है.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!