spot_img
सोमवार, अप्रैल 19, 2021
More
    spot_imgspot_img
    spot_img

    Adityapur-Black-marketing-of-grains : आखिर किसके इशारे पर आदित्यपुर में हो रहा सरकारी अनाजों का गोरखधंधा!

    Advertisement
    Advertisement

    आदित्यपुर : सरायकेला- खरसावां जिला में सरकारी अनाज की कालाबाजारी का गोरखधंधा बदस्तूर जारी है. आपको बता दें, कि पिछले महीने ही आदित्यपुर थाना अंतर्गत दिंदली बस्ती के पीडीएस डीलर श्याम अग्रवाल की दुकान से सरकारी अनाज खुलेआम ढोने के क्रम में स्थानीय लोगों ने गया साव को दबोचा था. उस वक्त डीलर श्याम अग्रवाल खुद गया साव के साइकिल पर सरकारी अनाज लदवाता नजर आया था, लेकिन सरकारी अनाज इधर-उधर करने में माहिर गया साव चकमा देकर भागने में सफल रहा था. वहीं मीडिया में खबर छपने के बाद भी सरकारी विभाग के अधिकारियों ने इस ओर ध्यान तक नहीं दिया. (नीचे भी पढ़ें)

    Advertisement
    Advertisement

    इधर बुधवार को एक बार फिर से आदित्यपुर गुमटी बस्ती विकास समिति के लोगों ने गया साव को सरकारी अनाज की हेराफेरी करते आदित्यपुर थाना से सटे बिजली विभाग के कार्यालय के गेट के पास रंगेहाथ दबोचा और सरकारी अनाज के साथ आदित्यपुर थाना के हवाले कर दिया. आदित्यपुर थाना पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. गौरतलब है कि पीडीएस डीलरों के गोदाम से गया साव सरकारी अनाज की हेराफेरी के आरोप में कई बार जेल जा चुका है. गया साव गम्हरिया प्रखंड के पीडीएस डीलरों का चहेता माना जाता है. आखिर गया साव के इस गोरखधंधे के पीछे एमओ और जिला आपूर्ति पदाधिकारी भी क्यों चुप्पी साध रखे हैं, ये जांच का विषय है. वही इस संबंध में आदित्यपुर गुमटी बस्ती विकास समिति के अध्यक्ष सह भाजपा नेता विशु महतो ने आदित्यपुर थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए जिला आपूर्ति पदाधिकारी से गम्हरिया प्रखंड के सभी पीडीएस डीलर के भूमिका की जांच किए जाने की मांग की है. साथ ही गया साव के पास से मिले सरकारी अनाज की भी जांच कर कार्रवाई किए जाने की मांग की है. इस दौरान तृणमूल कांग्रेस के युवा जिला अध्यक्ष विशेष कुमार तांती उर्फ बाबू तांती, मनोज सोनकर, रूपलाल महतो समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

    Advertisement

    Advertisement
    Advertisement

    Leave a Reply

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    spot_imgspot_img

    Must Read

    Related Articles

    Don`t copy text!