spot_img

adityapur-nagar-nigam-आदित्यपुर नगर निगम के 13वें बोर्ड बैठक में हंगामा, जागृति मैदान में बनने वाले प्रस्तावित नगर निगम के नए प्रशासनिक भवन को लेकर 3 खेमों में बंटे पार्षद

राशिफल

आदित्यपुर : लंबे समय बाद सोमवार को सरायकेला-खरसावां जिले के आदित्यपुर नगर निगम का 13 वां बोर्ड बैठक हंगामेदार रहा. हालांकि इसकी संभावना शुरू से ही जतायी जा रही थी. बैठक में कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव भी पारित किए गए मगर सबसे हॉट मामला वार्ड 30 स्थित आरआईटी थाना से सटे जागृति मैदान में प्रस्तावित नगर निगम के प्रशासनिक भवन के बनने को लेकर पार्षद तीन खेमों में बंटे रहे और तीनों ही खेमों में हॉटटॉक हुई. पार्षद अजय सिंह जहां प्रस्तावित नगर निगम के प्रशासनिक भवन निर्माण कार्य जागृति मैदान में ही कराने की वकालत करते नजर आए, वहीं पार्षद रंजन सिंह और बोरजो राम हांसदा ने जनहित को ध्यान में रहते हुए जागृति मैदान में प्रस्तावित नगर निगम के नए प्रशासनिक भवन के विरोध में स्वर मुखर करते हुए अजय सिंह से भिड़ गए. इन सबके बीच पार्षद सिद्धिनाथ सिंह ने गम्हरिया में नगर निगम का प्रशासनिक भवन बनाए जाने की वकालत की. हालांकि इस पर मेयर ने कड़ी आपत्ति जताते हुए सिद्धनाथ सिंह की मांग को सिरे से खारिज कर दिया. वैसे विवाद इतना गहरा गया कि पार्षदों ने वोटिंग के जरिए इस समाधान का हल निकालने की मांग कर डाली हालांकि इसे निगम की प्रतिष्ठा बताते हुए खारिज कर दिया गया. अंततः अपर नगर आयुक्त, मेयर और उपमहापौर पर इस विवाद के समाधान का हल निकालने का जिम्मा सौंपा गया. बोर्ड बैठक में अपार्टमेंट से कचरा उठाओ को लेकर शुल्क में वृद्धि बगैर अपार्टमेंट के प्रतिनिधियों से वार्ता किए बढ़ाने पर सहमति नहीं बन सकी वही सभी वार्डों में बने खटाल के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने पर सहमति बनी चालकों के मानदेय में वृद्धि के साथ पार्षदों को मिलने वाले तेल भत्ता में भी बढ़ोतरी की गई अब पार्षदों को महीने में 50 लीटर तेल भत्ता के रूप में मिलेगा वहीं डीप बोरिंग शुल्क बढ़ाने पर भी सहमति नहीं बनी. वहीं नगर निगम द्वारा 6 सीटर चलंत शौचालय के लिए डेढ़ हजार रुपए और 4 सीटर शौचालय के लिए एक हजार रुपए शुल्क निर्धारित करने पर सभी पार्षदों ने सहमति जताई. बैठक में हर वार्ड में एक- एक हाई मास्ट लाइट लगाने के प्रस्ताव पर सहमति बनी. इसके अलावा नगर निगम क्षेत्र के 10 वार्डों में खाली स्थानों को पार्क और खेल के मैदान के रूप में विकसित किए जाने पर सहमति बनी. इसके तहत मिरुडीह, उत्तमडीह, सीतारामपुर, आजाद मैदान, मध्य विद्यालय कुलुपटंगा, जागृति मैदान के आधे हिस्से को डेवलप करने पर सहमति बनी. इस बीच बजट पर परिचर्चा भी की गई. साथ ही पार्षदों द्वारा दो करोड़ रुपए की योजना दिए जाने की मांग रखी गई. वहीं पिछले बोर्ड बैठक में पारित 50 लाख रुपए की योजना पर भी चर्चा की गई. बताया गया, कि अभी योजना पर काम नहीं किया गया है. जल्द ही उसे अमल में लाया जाएगा. वही पार्षदों ने हर महीने बोर्ड बैठक की मांग की.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
[adsforwp id="129451"]

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!