मझगांव चौक पर एआईएमडीएफ कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

Advertisement
Advertisement

चाईबासा : मझगांव मुख्य चौक पर मंगलवार को ऑल इंडिया मुस्लिम डेवलपमेंट फोरम के नेतृत्व में सीएए एनआरसी विरोधी आंदोलन में सक्रिय होने का आरोप में 6 महीने से उत्तर प्रदेश के जेल में बंद डॉ कफील खान की रिहाई की मांग को लेकर संगठन के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने डॉ कफील खान पर लगाये गये राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) को वापस लेने की मांग की गई. इंटक जिला उपाध्यक्ष व एआईएमडीएफ जिला सचिव इरशाद अहमद ने कहा कि पिछले साल से चमकी बुखार से गरीब बच्चों को बचाने के लिए डॉक्टर कफील खान मुजफ्फरपुर बिहार आए हुए थे. उन्होंने मुजफ्फरपुर व आसपास के जिले के दर्जनों गांवों में पंचायत मेडिकल कैंप लगाकर मुफ्त इलाज किया. यदि आज वह बाहर रहते तो करोना महामारी के दौर में भी लोगों की जान बचाते. ऐसे लोगों को जेल में कैद रखना आम लोगों के साथ अन्याय है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है. ऑल इंडिया मुस्लिम डेवलपमेंट फोरम द्वारा इस महामारी दौर से बचने के लिए मझगांव के सभी दुकानदार और ग्रामीणों, बैक आफ इंडिया के गार्ड, आईसीडीएस की सेविका, प्रखंड विकास कायर्लय गार्ड को 500 मासक सैनिटाइजर का वितरण किया गया. सभी ग्रामीणों को जागरूक करने का प्रयास किया गया. इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से कांग्रेस जिला ग्रामीण अध्यक्ष रितेश कुमार तमसोय, प्रखंड अध्यक्ष शैलेश गोप, मो रसद सफीक, मो जरार असरार अहमद, उप प्रमुख अजीम अख्तर, जानुम सिंह पिंगुवा, फिरोज, जकाउल्लाह, रोशन, सद्दाम समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply