बहरागोड़ा : विधायक से मिलीं स्वयं सहायता समूह की महिलाएं, समस्याओं से अवगत कराया, मिला समाधान का आश्वासन

Advertisement
Advertisement

बहरागोड़ा : बहरागोड़ा प्रखंड के महिला स्वंय सहायता समूह की महिलाएं शनिवार को विधायक कार्यालय पहुंचीं. वहां विधायक कुणाल षाड़गी से मिलकर अपनी समस्याओं से अवगत कराया. महिलाओं ने कहा कि झारक्राफ्ट की ट्रेनिंग की हुई महिला स्वयं सहायता समूहों का मानदेय साल भर से बकाया है. खंडामौदा और बरागाडिया गाँव की 30-30 के दो समूहों की 60 महिलाएं जिन्होंने लगभग एक साल पहले 2018 के मई और जून महीने में कांथा सिलाई का प्रशिक्षण लिया था, उन्हें अब तक मानदेय राशि का भुगतान नही किया गया है. मुस्कान स्वयं सहायता समूह खंडामौदा और मां मंगला स्वयं सहायता समूह बरागाडिया का प्रति समूह 45,000 हजार रुपये के प्रशिक्षण मानदेय की राशि प्रति महिला 1500 रुपये के हिसाब से (कुल 90,000/-) का भुगतान अब तक नही हो पाया है. इससे महिलाओं को भारी आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है. महिलाओं ने कहा कि वे साल भर से झारक्राफ्ट के पदाधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर काट रही हैं. महिलाओं की समस्या से अवगत होकर विधायक ने झारक्राफ्ट के प्रबंध निदेशक दीपांकर पंडा से दूरभाष पर बात की और अविलंब पहल करने को कहा. दीपाकंर पंडा ने कहा कि सोमवार को वे इस मामले को वहां के प्रभारी से फाइल मंगवाकर आवश्यक कार्रवाई करेंगे. कहा कि जल्द ही महिलाओं के प्रशिक्षण के बकाया मानदेय का भुगतान किया जाएगा. इस दौरान मालती बेरा, कविता बारीक, खेलू परिदा, पूर्णिमा बेरा, सुजाता बेरा, सुनीता बेरा, बबीता बेरा व अन्य उपस्थित थीं.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement