spot_img
सोमवार, जून 14, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

बहरागोड़ा बीडीओ के कोरोना पॉजेटिव होने के बाद चाकुलिया प्रखंड कार्यालय में बरती जा रही सावधानी, मुसाबनी बीडीओ क्वारंटाइन

Advertisement
Advertisement

चाकुलिया : कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से निपटने के लिए स्थानीय प्रशासन सख्ती अपना रहा है. बहरागोड़ा के बीडीओ के कोरोना पॉजेटिव होने के पश्चात चाकुलिया प्रखंड कार्यालय में भी सावधानी बरती जा रही है. चाकुलिया के प्रखंड सह अंचल कार्यालय के मुख्य द्वार पर बीडीओ लेखराज नाग के निर्देश पर पानी, हैंडवाश, सैनिटाइजर रखा गया है. वहीं थर्मल स्कैनर के माध्यम से हर व्यक्ति के शारीरिक तापमान की जांच की जा रही है. उसके पश्चात मुख्य द्वार पर तैनात कर्मी ग्रामीणों के नाम और गांव रजिस्टर में अंकित करने के पश्चात कार्यालय में प्रवेश करने दे रहे हैं. कोरोना को लेकर प्रखंड प्रशासन द्वारा एहतियात बरतने के साथ ही लोगों को भी कोरोना प्रसार को रोकने की विधि की जानकारी देकर जागरूक किया जा रहा है.

Advertisement
Advertisement

चाकुलिया नगर पंचायत कार्यालय के गेट पर न साबुन-पानी और न सैनिटाइजर
वहीं नगर पंचायत कार्यालय में पदाधिकारी और जन प्रतिनिधियों द्वारा सुरक्षा के दृष्टिकोण से मुख्य द्वार पर न तो पानी, साबुन की व्यवस्था की गई है और न ही सैनिटाइजर रखा गया है. जबकि सरकार और जिला पदाधिकारी ने हर सरकारी और गैर सरकारी कार्यालय को निर्देश दिया है कि हर कार्यालय में पानी, साबुन और सैनिटाइजर रखा जाना है. ताकि कार्यालय में आने-जाने वाले लोग हाथ को पहले साबुन या सैनिटाइजर से धोयें, उसके बाद ही कार्यालय में प्रवेश करे. परंतु नपं के पदाधिकारी और जन प्रतिनिधियों द्वारा आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है. ऐसे में कोरोना संक्रमण का खतरा नपं कर्मी और ग्रामीणों के पर बना हुआ है. इस संबंध में नपं के प्रभारी कार्यपालक पदाधिकारी जय प्रकाश करमाली ने दूरभाष पर बताया कि नपं कार्यालय के मुख्य द्वार पर ग्रामीणों के लिए जल्द ही सैनिटाइजर की व्यवस्था की जायेगी. उन्होंने मुख्य द्वार पर सैनिटाइजर रखने का आदेश दिया है.

Advertisement

मुसाबनी के बीडीओ भी हुए क्वारंटाइन
दूसरी ओर बहरागोड़ा के बीडीओ के कोरोना पॉजेटिव होने के पश्चात मुसाबनी के बीडीओ अजय कुमार रजक भी पिछले सोमवार से होम क्वारंटाइन हैं. उन्होंने बताया कि कोरोना जांच के लिए उन्होंने भी स्वाब दिया है. जब तक रिपोर्ट नहीं आ जाती है तब तक वे होम क्वारंटाइन में रहेंगे. कोरोना के बढ़ते प्रकोप से अनुमंडल के विभिन्न विभागों में कार्यरत सरकारी कर्मचारियों में दहशत का माहौल बना हुआ है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!