spot_img

jamshedpur-बोकारो प्रकरण में सीजीपीसी भी हरकत में, मुखे ने आरएसएस पर बोला हमला, शैलेंद्र सोमवार को सिखों के साथ बोकारो डीसी से मिलेंगे, दिल्ली कमेटी तक पहुंचा मामला

राशिफल


जमशेदपुर: बोकारो जिला के दुग्धा प्रखंड में स्थित डीएवी स्कूल में दसवीं के अमृतधारी सिख युवक करणदीप सिंह को मजबूर कर छोटी कृपाण उतरवाकर परीक्षा में शामिल होने देने की घटना का झारखंड के सिखों में आक्रोश बढ़ने लगा है. रविवार को झारखंड प्रदेश गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह ने दूरभाष पर बोकारो डीसी से बातचीत कर दोषी पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है. उपायुक्त के बुलावे पर सोमवार शैलेंद्र सिंह के नेतृत्व में प्रदेश कमेटी का प्रतिनिधिमंडल बोकारो में सुबह 11 बजे डीसी से मिलेगा. इस मामले में तख्त पटना कमेटी के महासचिव इंदरजीत सिंह भी प्रधानमंत्री समेत अन्य को सिखों की भावनाओं से अवगत करा चुके हैं. इस संबंध में सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी बेरमो क्षेत्र के प्रधान गुरनाम सिंह, गुरु गोविंद सिंह पब्लिक स्कूल के प्रबंधक तरसेम सिंह, गोमो के प्रधान देवेंद्र सिंह काले एवं अन्य गुरुद्वारा के पदाधिकारी उपायुक्त से मिलने के बाद अगली कार्रवाई करने का निर्णय करेंगे.

डीसी कार्रवाई नहीं करते हैं तो कानूनी कार्रवाई करने को होंगे बाध्य: मुखे
बोकारो के दुग्धा स्थित डीएवी स्कूल में सिख छात्र को परीक्षा में धार्मिक चिह्न कृपाण के साथ बैठने से मना करने पर स्कूल प्रिंसिपल रामेश्वर प्रसाद पर कार्रवाई को लेकर सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने भी आवाज मुखर की है. रविवार को पंजाब से सीजीपीसी प्रधान गुरमुख सिंह मुखे ने बोकारो व गोमो की प्रमुख सिख हस्तियों क्रमश: प्रधान तरसेम सिंह व देवेंद्र सिंह काले से दूरभाष पर वार्ता की और मामले की पूरी जानकारी ली. उन्होंने मुखे को बताया कि 11 व 14 मई को लगातार प्रिंसिपल का रवैया सिख छात्र करणदीप सिंह के प्रति नकारात्मक रहा. छात्र ने धार्मिक भावना से प्रिंसिपल को अवगत कराने का काफी प्रयास किया, लेकिन उन्होंने नहीं सुनी. मुखे ने कहा कि यह आरएसएस के इशारे पर किया जा रहा है. क्योंकि स्कूल भी आरएसएस का है. उनके द्वारा जान बूझकर धार्मिक भावना से खिलवाड़ किया जा रहा है ताकि सिख भड़कें और माहौल खराब हो. मुखे ने बोकारो के सिख प्रतिनिधियों को आश्वस्त किया है कि वे बाकारो डीसी से मुलाकात कर प्रिंसिपल पर कार्रवाई की जोरदार मांग करे. अगर कार्रवाई होती है तो बहुत अच्छी बात है. नहीं तो सीजीपीसी कानूनी कार्रवाई करने के लिए सिखों को एकजदुट करने का कार्य करेगी. ऐसे में विधि व्यवस्था बिगड़ती है तो उसकी जवाबदेही बोकारो जिला प्रशासन व सीधे तौर पर राज्य सरकार की होगी.

जमशेदपुरी ने प्रिंसिपल पर कार्रवाई को लेकर डीसीजीपीसी को लिखा पत्र
जमशेदपुर के प्रचारक हरविंदर सिंह जमशेदपुरी ने बोकारो जिले में डीएवी के छात्र करणदीप सिंह के साथ धार्मिक दुर्व्यवाह को लेकर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को एक पत्र लिखकर प्रिंसिपल रामेश्वर प्रसाद पर कार्रवाई का दबाव बनाने के लिए कार्रवाई की मांग की है. जमशेदपुरी ने डीएवी स्कूल मैनेजमेंट के साथ-साथ राज्य सरकार व जिला प्रशासन को आड़े हाथ लिया है. उन्होंने कहा कि यह कहां का संविधान है की किसी के धार्मिक चिह्न को उतारकर ही स्कूल परिसर में घुसने दिया जाएगा. ये बिल्कुल बर्दाश्त योग्य नहीं है. उन्होंने कहा कि बार बार हमारे ककारों को नीचा दिखाने का काम किया जा रहा है. हरविंदर ने सरकार को तुरंत मामले में हस्तक्षेप करने की भी मांग की है. उन्होंने कहा की सिख पंथ की बात जब जब होती है तो सरकारें सिखों की तारीफों के पुल बाधती है की सिखों ने देश के लिए बहुत कुछ किया है. फिर आज फर्क क्यों किया जा रहा है. हरविंदर ने कार्रवाई नहीं होने पर नौजवानों द्वारा प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है.

सेंट्रल नौजवान सभा ने रोष प्रकट किया


सेंट्रल सिख नौजवान सभा ने भीव मामले पर कड़ा रोष प्रकट किया है. रविवार को सेंट्रल सिख नौजवान सभा के प्रधान सतबीर सिंह गोल्डु ने बयान जारी कर स्कूल प्रबंधन से मांग करते हुए कहा कि दोषी प्रधानाचार्य को अविलम्ब बर्खास्त करे और वो तुरंत सिख कौम से माफी मांगे अन्यथा नौजवान सभा कानून का सहारा लेगी. गोलडू ने कहा कि प्रिंसिपल ने धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचायी है, जिसे कतई बर्दाश्त नही किया जा सकता. सभा के महासचिव जितेन्द्र सिंह शालु, कोषाध्यक्ष सतविंदर सिंह, वरीय उपाध्यक्ष जगजीत सिंह जग्गी ने भी घटना की भर्त्सना की है.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!