Chaibasa : उत्क्रमित मध्य विद्यालय नीमडीह सेवानिवृत्त शिक्षिका को रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ दी गई विदाई

राशिफल

रामगोपाल जेना / चाईबासा : शिक्षक एक ज्योति है। शिक्षा की ज्योति पाने के लिए नजदीक रहना बहुत आवश्यक है। ये बातें सदर प्रखंड अंतर्गत उत्क्रमित मध्य विद्यालय, नीमडीह से पिछले नवंबर माह में सेवानिवृत्त विज्ञान शिक्षिका तोयोन तोपनो ने कही। उन्होंने माता-पिता से गुहार लगायी कि अपने बच्चों को शिक्षा अवश्य दिलाएं। शिक्षक आपके बच्चे को शिक्षा देने के लिए प्रतिदिन विद्यालय आते हैं। लिहाजा अपने बच्चों को प्रतिदिन विद्यालय भेजें। उत्क्रमित मध्य विद्यालय नीमडीह में तोयोन तोपनो के सेवानिवृत्त होने पर विद्यालय परिवार एवं विद्यालय प्रबंधन समिति के द्वारा विदाई सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। (नीचे भी पढ़ें)

इस अवसर पर टेकराहातु मुखिया चांदमनी कालुंडिया और मतकमहातु मुखिया जुलियाना देवगम उपस्थित थे। मुखिया जुलियाना देवगम ने कहा कि सेवा करने की कोई उम्र नहीं होती। शिक्षिका तोयोन ने सिर्फ विद्यालय विशेष में पढ़ाने का आयु पूरी कर ली है, लेकिन समाज की सेवा और शिक्षा देने का काम ताउम्र करती रहेंगी। विदाई समारोह में बच्चियों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये। अभिभावकों एवं विद्यालय परिवार की ओर से उपहार भेंट किया गया। अभिभावकों एवं बच्चों ने पारंपरिक नृत्य के साथ विद्यालय सीमा तक अपनी लोकप्रिय शिक्षिका तोयोन को विदा किया। इस अवसर पर मुंडा कृष्णा बारी, प्रधान शिक्षक कृष्णा देवगम, शिक्षक-शिक्षिकाएं सुशील कुमार सरदार, गंगाराम लागुरी, एलिस बेक, सुकांति गोप, विकास कुमार, कुंती बोदरा, प्रबंधन समिति उपाध्यक्ष मानी मुंदुईया, संयोजिका सरिता मुंदुईया समेत काफी संख्या में अभिभावक एवं बच्चे-बच्चियां उपस्थित थे।

Must Read

Related Articles