Chaibasa ticci committee : टिक्की के पश्चिमी सिंहभूम चैप्टर की नयी कमेटी का हुआ गठन, अनिल हेंब्रम अध्यक्ष, अनमोल पिंगुआ सचिव बनाये गये, अनिल ने आदिवासी युवाओं को उद्योग-व्यापार में लाना बताई अपनी प्राथमिकता

राशिफल

रामगोपाल जेना/चाईबासा : ट्राइबल इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ( टिक्की ) के पश्चिमी सिंहभूम चैप्टर की आज यहां गठन किया गया. चाईबासा आत्मा भवन में संगठन की आयोजित बैठक में मुख्य रूप से टिक्की – इंडिया के राष्ट्रीय महासचिव बसंत तिर्की, मुख्य अतिथि रूपनारायण खलको, टिक्की- पश्चिमी सिंहभूम चैप्टर के पूर्व अध्यक्ष छोटेलाल तामसोय एवं पर्यवेक्षक रामचंद्र बास्के के अलावा काफी संख्या में आदिवासी उद्यमी शामिल हुए.  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पश्चिमी सिंहभूम चैप्टर के पूर्व अध्यक्ष छोटेलाल तामसोय ने बताया कि उनका कार्यकाल काफी चुनौती भरा रहा. उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज को उद्योग एवं व्यापार के क्षेत्र में लाना चुनौती भरा काम है, किंतु यह असंभव नहीं है. आज समय तेजी से बदला है और हमारे पास उद्योग व्यापार अपनाने के अलावा दूसरा कोई विकल्प नहीं है. आदिवासी समुदाय को हर हाल में व्यापार के क्षेत्र में आना होगा. (नीचे भी पढ़ें)

राष्ट्रीय महासचिव बसंत तिर्की ने कहा कि पश्चिमी सिंहभूम क्षेत्र माइंस एवं फॉरेस्ट के लिए विख्यात है और इन दोनों क्षेत्रों में आदिवासी समुदाय के लिए व्यापार की अपार संभावनाएं हैं.  चाहे माइनिंग में सर्विस क्षेत्र हो या फिर वनोत्पाद, दोनों में बेहतर विकल्प हैं. वर्तमान में भारत सरकार के द्वारा घोषित सूक्ष्म फूड प्रसंस्करण योजना भी कारगार हो सकती है. उन्होंने कहा कि हमारी भाषा – संस्कृति तभी बचेगी जब हम लोग बचेंगे और हम लोग तभी बचेंगे जब हमारे समुदाय में आर्थिक संपन्नता आएगी.  नौकरी की संख्या दिनों दिन कम होती जा रही है ऐसे में हमारे समुदाय को नौकरी लेने वाले के बजाय, नौकरी देनेवाला बनाने होंगे. इसके लिए ट्राइबल चेंबर आदिवासी समुदाय को उद्योग- व्यापार के क्षेत्र में लाने के लिए वचनबद्ध है. (नीचे भी पढ़ें)

चुनाव पर्यवेक्षक रामचंद्र बास्के ने टिक्की – पश्चिमी सिंहभूम चैप्टर की नई कमेटी की घोषणा की जिसमें अध्यक्ष अनिल कुमार हेंब्रोम, उपाध्यक्ष हरीश कुंकल, सचिव अनमोल पिंगुआ, सहायक सचिव रिमिल पाड़ेया, सहायक सचिव प्रियतम पुर्ती, कोषाध्यक्ष महेंद्र लागुरी एवं सह कोषाध्यक्ष रामेशवर बिरुआ को बनाया गया है. इसके अलावा कार्यकारिणी सदस्य के रूप में मनीष आल्डा, राजेन्द्र कुमार सुंडी ,सूर्या जामुदा, भारत बिरुआ, संतोष सवैया, मोहन सिंह देवगम, कुंदन बिरुली, साधु हो, कृष्णा  दिग्गी, जगदीश बारी, मनजीत कोड़ा, रूपनारायण गोडसोरा, मनजीत हांसदा, बेला जेराई, देवन कालुंडिया,  झुमा गागराई, सौरभ बिरुआ, रोशनी बिरुली, सुषमा बोदरा, नारायण देवगम, भगवान देवगम, राधेश्याम दोराई, सुनीता बानरा,  समीर देवगम, जयपाल पुर्ती, निर्मल सिंकू को मनोनीत किया गया. सभी ने टिक्की- पश्चिमी सिंहभूम चैप्टर के नए अध्यक्ष अनिल कुमार हेंब्रम के साथ नई कमेटी को बधाइयां दीं.(नीचे भी पढ़ें)

वहीं, अध्यक्ष अनिल कुमार हेंब्रम ने अपनी आगामी योजनाओं की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि पश्चिमी सिंहभूम के प्रत्येक प्रखंड में कमेटी का गठन कर युवाओं को उद्योग व्यापार से जोड़ना उनकी प्राथमिकता होगी. उन्होंने बताया कि सभी को व्यापार से संबंधित कागजात नि:शुल्क उपलब्ध कराये जायेंगे. सभी प्रशिक्षण नि:शुल्क दिये जायेंगे एवं केंद्र तथा राज्य सरकारों की योजनाओं से उनको लाभान्वित कराया जाएगा.

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!