spot_img
सोमवार, अप्रैल 19, 2021
More
    spot_imgspot_img
    spot_img

    icai-jamshedpur-जीएसटी में धांधली को रोकना सरकार के लिए बहुत बड़ी चुनौती, जीएसटी के घोटालों को लेकर चार्टर्ड एकाउंटेंट ने की गहन मंथन, कई सम्मानित

    Advertisement
    Advertisement

    जमशेदपुर : इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए संस्थान आईसीएआई), जमशेदपुर शाखा द्वारा रिर्सजेन्स चेंजिंग डाइमेंशन ऑफ परफॉर्मेंस विषय पर आयोजित दो दिवसीय सम्मेलन के दूसरे दिन शनिवार को बतौर अतिथि जयपुर से आये वक्ता सीए जतिन हरजाई ने कहा कि फेक इनवायस, इनपुट क्रेडिट मेूं धांधली को रोकना सरकार के लिए बहुत बड़ी चुनौती हैं. जीएसटी में फेक इनवायस से यह मतलब हैं कि आपूर्तिकर्ता ने माल की आपूर्ति किए बिना इनवायस जारी कर दिया हैं या फिर यह भी कहा जा सकता हैं कि माल की आपूर्ति उस व्यक्ति को किया जिसे इनवायस की आवश्यकता नहीं हैं और इनवायस उस रजिस्टर्ड डीलर को दिया जिसे माल की जरूरत नहीं.

    Advertisement
    Advertisement

    इस प्रकार से जीएसटी में बेइमान आपूर्तिकत्ताओं द्वारा सरकार को करोड़ों रुपये की चपत लगाई जा रही हैं. उन्होंने यह भी कहा कि 99 प्रतिशत से अधिक व्यापारकर्ता का टैक्स कम्पलायन्ट है. केवल एक प्रतिशत व्यापारकर्ता के कारण सरकार को सख्त टैक्स कम्पलायन्ट नियम एवं कानून बनाने पड़ रहे हैं, जिससे इमानदार टैक्स कम्पलायन्ट को भी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा हैं. द्वितीय सत्र में बतौर अतिथि मुंबई से आये सीए चंद्रशेखर वेज ने कोड आफ एथिक्स के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि चार्टर्ड एकाउंटेंट ऐसा प्रोफेशन हैं जिसमें कोई भी व्यक्ति इंस्टीट्यूट को शिकायत कर सकता हैं, भले ही वह व्यक्ति किसी भी प्रकार से वाद में पार्टी नहीं हैं. उन्होंने आगे कहा कि समाज एवं पूरा विश्व चार्टर्ड एकाउंटेंट से बहुत आशा करते हैं. हमें अपना उत्तरदायित्व बहुत अच्छे से निभाना हैं.

    Advertisement

    तृतीय सत्र में पूणे से आये सीए पराग कुलकर्णी ने एकाउन्टिंग स्टेन्डर्ड की बारिकी को समझाया. उन्होंने कहा कि जो भी एकाउन्टिंग स्टैंडर्ड हमारे इंस्टीट्यूट द्वारा निर्धारित हैं, उस एकाउन्टिंग स्टैंडर्ड का अनुपालन पूर्ण रूप से चार्टर्ड एकाउटेंटस को करना चाहिए. यदि वे स्टैंडर्ड का उपयोग करके फाइनेशियल स्टेटमेंट बनायेंगें तो स्टेटमेंटस दोष रहित रहेंगें. बिष्टुपुर स्थित अलकोर होटल में आयोजित हुए सेमिनार के दूसरे दिन शनिवार को प्रथम सत्र की अध्यक्षता सीए सिद्धार्थ खंडेलवाल, द्वितीय सत्र की अध्यक्षता सीए विनोद खेमका एवं तृतीय सत्र की अध्यक्षता सीए अलोक कुमार ने की. सेमिनार के अंत में खेल प्रतियोगिता के विजेताओं को शाखा चेयरमैन संजय गोयल एवं शाखा सचिव सुगम सरायवाला ने पुरूस्कृत किया. दूसरे दिन भी सम्मेलन में लगभग 150 एकाउंटेंट फिजिकल उपस्थित रहे जबकि 200 से ज्यादा एकाउंटेंट ऑनलाइन देश भर से जुड़ें. आज के इस सम्मेलन में प्रमुख रूप से सीए सीके त्रिपाठी, पवन अग्रवाल, दयाशंकर, स्नेहा सरायवाला, शशि सरायवाला, महेश अग्रवाल, रवि अग्रवाल, योगेश शर्मा, विकास अग्रवाल, रमाकांत गुप्ता, विनोद सरायवाला आदि उपस्थित थे.

    Advertisement

    Advertisement
    Advertisement

    Leave a Reply

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    spot_imgspot_img

    Must Read

    Related Articles

    Don`t copy text!