jamshedpur-big-loss-जमशेदपुर समेत कोल्हान के बड़े सीटू नेता नरेंद्र मिश्रा का निधन, गुम हो गयी मजदूरों की आवाज, टाटा वर्कर्स यूनियन के खिलाफ सामानांतर यूनियन खड़ा करने वाले के रुप में थी पहचान

राशिफल

दिवंगत मजदूर नेता नरेंद्र मिश्रा

जमशेदपुर : जमशेदपुर समेत पूरे कोल्हान के बड़े मजदूर नेता और वामपंथी मजदूर संगठन सीटू के पूर्व अध्यक्ष नरेंद्र मिश्रा का शनिवार को निधन हो गया. वे 82 साल के थे. मजदूर नेता नरेंद्र मिश्रा के साथ ही एक बड़ा नाम मजदूर संगठन से चला गया. एक तरह से मजदूरों की आवाज शनिवार को कहीं गुम हो गयी. वे काफी दिनों से बीमार भी चल रहे थे. ना झुकने वाले, ना टूटने वाले और मजदूरों की मांग को लेकर लंबी से लंबी लड़ाई लड़ने वाले नरेंद्र मिश्रा आदित्यपुर के रहने वाले थे. वे अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ गये है. नरेंद्र मिश्रा को इसलिए भी याद किया जायेगा कि टाटा स्टील की अधीकृत यूनियन टाटा वर्कर्स यूनियन के समानांतर टिस्को मजदूर यूनियन का गठन नरेंद्र मिश्रा और उनके जैसे कद्दावर नेताओं ने किया था. हालांकि, टाटा स्टील प्रबंधन ने उनको मान्यता नही दी, लेकिन टाटा स्टील के मजदूरों की कई लड़ाई उन लोगों ने बाहर ररहकर भी लड़ा और गेट पर प्रदर्शन तक किया. हालात यह हुए कि उन लोगों को धमकी भी दी गयी, लेकिन वे लोग अडिग रहे और एक सामानांतर समिति बनाकर काम करते रहे. आदित्यपुर एक रोड नंबर 18 निवासी सीटू के झारखंड कमेटी के उपाध्यक्ष कॉमरेड नरेंद्र मिश्रा का अंतिम संस्कार 12 सितंबर को प्रात: 10 बजे बिष्टुपुर स्थित पार्वती घाट पर किया जायेगा. वह अपने पीछे तीन पुत्र, दो पुत्री व भरापूरा परिवार छोड़ गये हैं. स्वर्गीय नरेंद्र मिश्रा टाटा स्टील के कोक ओवेंस के बेंजॉन प्लांट से सेवानिवृत हुए थे. उनके निधन की खबर मिलते ही लोगों का आना शुरू हो गया. कामरेड नरेंद्र मिश्रा के निधन के पश्चात प्रदेश भर में सीटू के सभी कार्यालयों में पार्टी के झंडे को शोक स्वरूप झुका कर रखा गया है.

Must Read

Related Articles