jamshedpur-covid-uncontrolled-allert-जमशेदपुर में कोरोना मरीजों की बढ़ रही संख्या, हालात ऐसे कि भर गया ‘टीएमएच’, टाटा स्टील के नये जीटी हॉस्टल में बनाया गया ”कैंप अस्पताल” भी ”फुल”, कदमा के एक और जीटी हॉस्टल में तैयार हो रहा 90 बेड का नया कैंप अस्पताल, बागबेड़ा, कदमा समेत अन्य एरिया में मिले कोरोना पोजिटिव नये मरीज

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : जमशेदपुर में कोरोना पोजिटिव मरीज की लगातार संख्या बढ़ती जा रही है. बागबेड़ा और कदमा समेत कई इलाके में नये पोजिटिव मरीज मिल रहे है. बिना कांटैक्ट हिस्ट्री और बिना ट्रैवल हिस्ट्री वाले भी मरीज कोरोना पोजिटिव पाये गये है. बागबेड़ा क्षेत्र के रोड नंबर दो में एक महिला को कोरोना पोजिटिव पाया गया है जबकि कदमा क्षेत्र में भी नये कोरोना पोजिटिव केस आये है. हालात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जमशेदपुर में टीएमएच में कोरोना को लेकर बनाये गये अस्पताल या वार्ड में बेड की संख्या 513 था, जिसमें 749 कोरोना पोजिटिव मरीज भरती हुए है जबकि 421 लोग डिस्चार्ज हुए है. टीएमएच में 513 बेड रखे गये थे, जो फुल हो गया था तो 150 बेड का नया कदमा जीटी हॉस्टल 4 में कैंप अस्पताल बनाया गया था. अब वहां भी बेड फुल हो चुका है जबकि अब कदमा जीटी हॉस्टल 3 को भी नया कैंप अस्पताल बनाया जा रहा है, जहां 90 नये बेड लगाये गये है और मरीज का इलाज शुरू होने जा रहा है. वैसे टीएमएच की बात की जाये तो टीएमएच में अब तक 12036 टेस्ट हो चुके है. अगर हालात को काबू में नहीं लिया गया और जमशेदपुर में खुद से लोग सचेत नहीं रहे तो हालात बद से बदतर होते चले जायेंगे. फिर लोगों को बेड की ही किल्लत होने लगेगी और लोगों का आना जाना और इलाज होना मुश्किल हो जायेगा. सिर्फ बेड बढ़ाना ही इसका रास्ता नहीं है. इसके अनुपात में वेंटिलेशन और चिकित्सकों और नर्सिंग स्टाफ की भी जरूरत होगी. इस कारण लोगों को खुद से सचेत रहने की जरूरत है.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement

Leave a Reply