Jamshedpur : 21वीं सदी में भी अंधविश्वास का दंश झेल रही युवती, झाड़-फूंक करनेवालों ने युवती को जंजीर में बांध रखा, परिजन भी अंधविश्वास की चपेट में, क्या कहती है पीड़िता व क्या कहते हैं परिजन देखें-Video

राशिफल

जमशेदपुर : इक्कीसवीं सदी के भारत में ऐसी तस्वीरों को देखकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे. ये तस्वीर झारखंड के जमशेदपुर की है, जहां जंजीरों में जकड़ी युवती को देखकर आप दंग रह जाएंगे. लड़की को मानसिक रोगी बताया जा रहा है. मगर लड़की जो बता रही है उसे भी गौर से सुनें. लड़की अपना नाम और पता सही बता रही है और ये भी बता रही है कि उसके साथ यहां क्या हरकत हो रही है. दरअसल ये इलाका बिष्टुपुर कहलाता है. रईसों के इलाके में इमामबाड़े से लड़की को बरामद किया गया है. इमामबाड़े के कर्ता-धर्ता यहां रूहानी शक्तियों से ग्रसित मरीजों का ईलाज होने की बात करते हैं. यहां तक कि लड़की के परिजन भी मान चुके हैं कि उसके शरीर में शैतान का वास है. इसलिए उसे इमामबाड़े के जिम्मे सौंप दिया है, जहां उसके साथ क्या हो रहा है उसे आप भी इस वीडियो में देख सकते हैं. (नीचे भी पढ़ें)

पूछने पर पीड़िता ने बताया कि उसे यहां किसी रकिब नामक व्यक्ति ने चेन से बांध रखा है. दूसरी ओर वहां मौजूद एक व्यक्ति से पूछा गया, तो उसने कहा कि युवती शैतानी हरकत करती है. अपने माता-पिता को पीटा है. यह शैतानी ताकत के कब्जे में है. युवती के पिता भी यही मानते हैं. युवती की बहन कहती है कि उसकी दिमागी हालत ठीक है, लेकिन उसे शैतान ने पकड़ लिया है. स्थिति यह है कि विज्ञान और मेडिकल साइंस जहां इतनी तरक्की कर चुका है, वहीं आज भी आंधविश्वास और आडंबर को मानने वालों की कमी नहीं है.

Must Read

Related Articles