खबरJamshedpur firing case - बिष्टुपुर फायरिंग के आरोप से छह बरी, यहां...
spot_img

Jamshedpur firing case – बिष्टुपुर फायरिंग के आरोप से छह बरी, यहां चूक गयीं पुलिस

राशिफल

जमशेदपुर  : जमशेदपुर के फायरिंग के एक मामले में सुनवाई करते हुए जमशेदपुर कोर्ट के एडीजे -4 राजेंद्र कुमार सिन्हा की अदालत ने बुधवार को आरोपी मोहम्मद अरशद, मोहम्मद आदील, अब्दुल सलमान खान, गुडडन उर्फ मजहर खान, मोहित तिवारी और अमीर खान को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया. अपर लोक अभियोजक राजीव कुमार ने बताया कि इस मामले में कुल 13 लोगों की गवाही हुई हैं. घटना 3 अप्रैल 2016 की हैं. मानगो निवासी आदित्य कुमार सिंह ने बिष्टुपुर पुलिस को दी बयान बताया था कि वह कोलकाता में रहकर दौड़ का धावक के रुप में स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया में नामांकन कराया था और पढ़ाई के साथ-साथ स्पोर्ट्स का पशिक्षण ले रहा था. 23 मार्च 2016 को होली के उपलक्ष्य में अपना सर्टिफिकेट लेने के लिए घर आया था. घटना के दिन वह साथियों के साथ मोदी पार्क के पास क्रिकेट खेल रहा था. तभी उसके साथी वाहीद एवं वाहीद के बड़े भाई हनी उर्फ अब्दुल माजिद, युसूफ खान,मनदीप सिंह भी वहां पहुंचे और एक जगह तीनों बैठ गए. (नीचे भी पढ़ें)

रात करीब आठ बजे वह घर लौटने के लिए अपना मोटरसाईकिल स्टार्ट कर जैसे ही कुछ आगे बड़े तो अचानक एक एक्सयूवी कार आई और रूक गया. कार से अचानक फायरिंग होने लगा अंधेरा होने के कारण वह घबरा गया, और कार का नंबर भी नही देख पाया था. फायरिंग से एक गोली उसके पिंजरे के नीचे कमर में लगा. तब तक हनी, युसूफ और मनदीप ने किसी दूसरे की स्कूटी लेकर उसे टीएमएच लेकर गया जहां उसका इलाज हुआ. घटना का कारण ही के भाई वाहीद से एक वीडियो को लेकर विवाद था. उसी विवाद को लेकर फायरिंग की घटना को अंजाम दिया गया था.

Must Read

Related Articles

Floating Button Get News On WhatsApp
Don`t copy text!