spot_imgspot_img
spot_img

Jamshedpur : स्वदेशी जागरण मंच की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में तीन प्रस्ताव पारित, वक्ताओं ने कहा-कोविड के टीकों व औषधियों की सर्वसुलभता आवश्यक, पेटेंट मुक्त वैक्सीन के लिए 13 जून तक चलेगा हस्ताक्षर अभियान

जमशेदपुर : स्वदेशी जागरण मंच की राष्ट्रीय परिषद की बैठक 7-8 जून, 2021 को जमशेदपुर में होना तय हुआ था, परंतु कोविड वैश्विक महामारी के कारण ऑनलाईन बैठक संपन्न हुई। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में नाटको फार्मा कंपनी के सीईओ राजीव कुमार उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि इस कोराना महामारी में उनकी कंपनी उपयोग में आने वाली दवाओं को सस्ते दामों में उपलब्ध कराने की पुरजोर कोशिश की है तथा उन्होंने कहा कि पेटेंट के कारण कई प्रकार की दवाओं का उत्पादन हम नहीं कर पा रहे हैं जिससे लोागों को महंगे दामों में इन दवाओं को बाजार से खरीदना पड़ रहा है। भारत सरकार ने पेटेंट मुक्त कराने के लिये पहल की है जिसमें अमेरिका तथा यूरोपियन यूनियन सहित 120 देशों ने इस कोविड महामारी में दवाओं को पेटेंट मुक्त करने के भारत के इस अभियान का समर्थन किया है। इस अभियान में स्वदेशी जागरण मंच ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। बैठक में विस्तृत अतिथि के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक के सह सरकार्यवाह माननीय भगैया जी ने अपने विचार रखते हुये कहा कि सर्वसुलभ वैक्सीन और मेडिसिन के लिये स्वदेशी जागरण मंच के द्वारा चलाये गये इस अभियान में पूरा संघ परिवार जुड़कर इस अभियान को सफल बनाने लिये कार्य करें। (नीचे भी पढ़ें)

बैठक में मुख्य रूप से स्वदेशी जागरण मंच के अखिल भारतीय संयोजक आर. सुन्दरम, अखिल भारतीय सह संयोजक अरूण ओझा, अश्विनी महाजन, धनपत राम अग्रवाल, अजय पत्की, गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर भगवती प्रकाश शर्मा, अखिल भारतीय संगठक कश्मीरी लाल जी, अखिल भारतीय सहसंगठक सतीश कुमार, अखिल भारतीय महिला प्रमुख अनिता पत्की, अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख दीपक शर्मा प्रदीप, पद्मभूषण राजेन्द्र ने अपने विचार रखे। बैठक में कुल चार सत्र आयोजित किये गये जिसमें तीन प्रस्ताव पारित किये गये। बैठक में स्वदेशी जागरण मंच के द्वारा गत 11 मई से चलाये जा रहे पेटेंट मुक्त कोरोना वैक्सीन की मांग करते हुए डिजिटल पीटीशन हस्ताक्षर अभियान पर चर्चा हुई। अबतक लगभग 10 लाख से उपर हस्ताक्षर हो चुके हैं। इस अभियान को 13 जून तक चलाना है। अधिक से अधिक हस्ताक्षर हो इसके लिये देश में सघन अभियान चलाना है। हस्ताक्षर अभियान जिसमें दुनिया की पूरी आबादी को कोविड के टीकों व औषधियों की सर्वसुलभता हो, इस पर चर्चा हुई। बैठक में पूरे देशभर से 380 प्रतिनिधि सम्मिलित हुए। जमशेदपुर से अखिल भारतीय सह संघर्ष वाहिनी प्रमुख बंदेशंकर सिंह, खादी गा्रमोद्योग आयोग के सदस्य मनोज कुमार सिंह उपस्थित थे।
बैठक में तीन प्रस्ताव परिचर्चा के बाद पारित किये गये जिसमें – (नीचे पढ़ें)

  1. भारत: आर्थिक परिदृश्य एवं संभावनायें
  2. भारत को जीवंत और इनोवेटिव स्वास्थ्य प्रणाली का वैश्विक केन्द्र बनाना
  3. कोविड के टीकों और औषधियों की सर्वसुलभता आवश्यक
[metaslider id=15963 cssclass=””]

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!