spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
260,923,392
Confirmed
Updated on November 27, 2021 12:30 PM
All countries
233,988,283
Recovered
Updated on November 27, 2021 12:30 PM
All countries
5,207,380
Deaths
Updated on November 27, 2021 12:30 PM
spot_img

Jamshedpur-Jadugora-UCIL : डुंगरीडीह गांव में फटा यूरेनियम कचरे की पाईप लाईन, कंपनी प्रबंधन के साथ वार्ता में विस्थापितों को मिला आश्वासन

Advertisement

Advertisement
Advertisement

जादूगोड़ा : यूसिल की लापरवाही का खामियाजा एक बार फिर भाटीन पंचायत के ग्रामवासी को भुगतने को विवश हैं. भाटीन पंचायत अंर्तगत डुंगरीडीह गांव में सोमवार को यूसिल जादूगोड़ा मिल से टेलिंग पौण्ड (स्लाईम डैम) में जाने वाली यूरेनियम की कचड़ा पाइप लाइन फट जाने से गांव में पानी घुस गया और सडक पर बहने लगा. इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने स्लाईम डैम का कार्य को करीब तीन घंटे तक बंद करवा दिया. घटना की जानकारी होने पर यूसिल प्रबंधन ने आनन-फानन में पाइप लाइन की मरम्मत करायी व यूसिल अधिकारी एमके साहू ने गांव पहुंच कर ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया. इससे पहले सैकड़ो लीटर यूरेनियम का कचड़ा पानी एक ग्रामीण के घर में घुस गया और सड़क व गांव में बहने लगा. घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने फटी पाइप लाईन और सड़क के मरम्मत कार्य को ठप कर दिया. हालांकि यूसिल प्रबंधन द्वारा मंगलवार को वार्ता का प्रस्ताव देने के बाद करीब तीन घंटे बाद मरम्मत कार्य शुरू किया गया. (नीचे भी पढ़ें)

Advertisement

क्या है मामला
गौरतलब है कि यूसिल जादूगोड़ा मिल से चाटीकोचा स्थित टेलिंग पौंड (स्लाईम डैम) में चार पाइप लाइन के माध्यम से यूरेनियम का कचरा भेजा जाता हैं. सभी पाइप लाइन चाटीकोचा, टुवान्डुगरी, डुंगरीडीह गांव लोहे की रिलिंग के सहारे ये सभी गांव के पास से होकर गुजरती हैं. सोमवार की दोपहर लगभग दो बजे चारों पाइप लाइन मे से एक पाइप पूरी तरह से फट गया था. इससे गांव के समीप यूरेनियम कचरा फैलते हुए पूरे सड़क पर बहने लगा. यूरेनियम कचरा की चपेट में कुछ लोग आने की सूचना भी हैं. सड़क पर यूरेनियम कचड़ा (अयस्क) गिरने से उनके बदबू के कारण आने-जाने में लोगों को काफी परेशानी हो रही हैं. (नीचे भी पढ़ें)

Advertisement

यूसिल प्रबंधन से जेसीबी से करवाया कचड़ा साफ
यूसिल प्रबंधन को घटना के जानकारी मिलने पर पाइप लाइन की मरम्मती करवाई साथ ही यूरेनियम के कचडे को डुंगरीडीह गांव व सड़क को जेसीबी से साफ करवाया. इसके साथ ही यूरेनियम कचडे को नाली के सहारे बहा दिया गया. (नीचे भी पढ़ें)

Advertisement

विस्थापित व प्रबंधन के बीच वार्ता सम्पन्न
मंगलवार को कम्पनी के अधिकारियों और विस्थापितों के बीच हुई बैठक के बाद कम्पनी द्वारा विस्थापितों की पांच सूत्री मांगों पर उचित कारवाई के आश्वासन के बाद विवाद समाप्त हो गया. बैठक में शामिल डूंगरीडीह के विस्थापित प्रभात मांझी ने बताया की गाँव की ओर से मांझी बाबा प्रधान श्यामदास सोरेन ने यूसिल कम्पनी के सामने, टेलिंग पौंड के आस -पास लोहे की शीट लगाने, अधुरा रोड का निर्माण कार्य पूरा करने, गाँव में एक सामुदायिक भवन का निर्माण करने एवं अन्य मूलभूत सुविधाएँ बहाल करने की मांगे रखी. यूसिल की ओर से वार्ता में शामिल यूसिल के सहायक प्रबंधक (कार्मिक) महेश कुमार साहू, एवं राकेश कुमार अपर प्रबंधक (कार्मिक) ने शिरकत की और उन्होंने सभी मांगों को ध्यान पूर्वक सुनने के बाद इसपर सकारात्मक पहल करने की बातें कही और यह आश्वाशन दिया की कम्पनी हर कदम पर प्रभावित परिवारों के साथ है और उनकी मांगों के प्रति गंभीर भी है. जल्द ही उच्च अधिकारीयों से बातें करके ग्रामीणों की समस्या को हल करने का प्रयास किया जायगा. ग्रामीणों की ओर से इस बैठक में ग्राम प्रधान के साथ प्रदीप हंसदा, गाजीराम सोरेन आदि ने भी भाग लिया.

Advertisement
Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!